लखनऊ, जेएनएन। UP Board Exam 2020 : उत्तर प्रदेश माध्यमिक परिषद की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट 2020 की परीक्षा मंगलवार से शुरू हो गई है। पहली पारी में हाईस्कूल की परीक्षा शांतिपूर्वक ढंग से संपन्न हुई। जिसके बाद दूसरी पाली में इंटर मीडिएट की परीक्षा शुरू हुई है। पहले दिन हिंदी की परीक्षा हुई। सभी केंद्रों में परीक्षा कड़ी निगरानी में हुई। राजधानी के 112 केंद्रों पर परीक्षा आयोजित की जा रही है। इसमें एक लाख एक हजार 276 परीक्षार्थियों के शामिल होने की उम्‍मीद है। नकलविहीन परीक्षा कराने के लिए इस साल व्यवस्था और सख्त व चाक-चौबंद व्यवस्था की गई है।

केंद्रों पर भारी पुलिस बल तैनात किए गए हैं तो परीक्षा कक्ष में सीसीटीवी कैमरे परीक्षार्थियों की हर गतिविधि को रिकॉर्ड करेंगे। हाईस्कूल और इंटर में पहले दिन हिंदी की परीक्षा हुुुुई । 

उधर, पहले दिन ही परीक्षा की तैयारी परखने उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा के साथ माध्यमिक शिक्षा राज्य मंत्री गुलाब देवी तथा प्रमुख सचिव माध्यमिक शिक्षा अराधना शुक्ला के साथ शिक्षा विभाग के आला अधिकारियों ने लखनऊ के कई परीक्षा केंद्रों का दौरा भी किया। वहीं, मलिहाबाद स्थित अति संवेदनशील परीक्षा केंद्र की सुरक्षा एक सिपाही के भरोसे छोड़ दी गई।

कुंवर आसिफ अली संजू मियां कॉलेज में परीक्षार्थियों से प्रवेश के समय चेकिंग के दौरान उनकी बेल्‍ट तक उतरवा ली गईं। एक तरफ जहां नकलविहीन परीक्षा कराने के लिए इस साल व्यवस्था और सख्त व चाक-चौबंद व्यवस्था की गई है। वहीं, दूसरी तरफ खटारा गाड़ियों से बिना सुरक्षा कर्मियों के केंद्रो पर मण्डलीय सचल दल रवाना हुआ।बताया जा रहा है कि सीतापुर और लखीमपुर के लिए टीमें सुबह 7:30 बजे निकलीं, जबकि इन्हें छह बजे निकलना था। वहीं, मलिहाबाद जनता इंटर कॉलेज बोर्ड परीक्षा के मानकों की धज्जियां उड़ता दिखाई दिया। यहां परीक्षार्थी तीन सेड के नीचे परीक्षा देेेेते दिखाई दिए।

 

परीक्षा पर एसटीएफ की भी पैनी नजर 

जिले के 12 केंद्र संवेदनशील और 32 अति संवेदनशील श्रेणी में हैं। इन केंद्रों पर एसटीएफ और पुलिस की पैनी नजर रहेगी। इसके अलावा परीक्षा कक्ष के अंदर इस बार दो कक्ष निरीक्षकों की तैनाती की जा रही है। प्रत्येक कक्ष में दो सीसीटीवी कैमरे रहेंगे। एक आगे और दूसरा पीछे जो हाई स्पीड इंटरनेट से जुड़े होंगे। राउटर और वायस रिकार्डर लगाए गए हैं। सीसीटीवी कैमरे से जिला और राज्य दोनों कंट्रोल रूम से सीधे निगरानी की जाएगी। लापरवाही मिलने पर केंद्र व्यवस्थापक और कक्ष निरीक्षक के खिलाफ भी तत्काल कार्रवाई होगी।

 

मंडल और जिला स्तर पर बने सचल दस्ते : परीक्षा केंद्रों को औचक निरीक्षण के लिए मंडल स्तरीय (लखनऊ, उन्नाव, हरदोई, रायबरेली, सीतापुर और लखीमपुर) के लिए चार सचल दस्ते। जनपद स्तरीय परीक्षा केंद्रों पर भ्रमण के लिए छह सचल दस्ते बनाए गए हैं। यह दस्ते केंद्रों का औचक निरीक्षण करेंगे। दस्ते में एक प्रभारी अधिकारी और चार सदस्य होंगे।

लखनऊ में ये है स्थिति

  • परीक्षा केंद्र 112 परीक्षार्थियों की कुल संख्या 101276 हाईस्कूल संस्थागत परीक्षार्थी 53769
  • हाईस्कूल व्यक्तिगत परीक्षार्थी 496
  • इंटर संस्थागत परीक्षार्थी 45377
  • इंटर व्यक्तिगत परीक्षार्थी 1634
  • हाईस्कूल - 8.00 से 11.15
  • इंटर - 2.00 से 5.15। 

समस्या के लिए परीक्षार्थी और केंद्र व्यवस्थापक यहां करें फोन

मंडलीय कंट्रोल रूम 0522-2254070 (संयुक्त शिक्षा निदेशक षष्ठ मंडल कार्यालय) जनपद कंट्रोल रूम 0522-2254479 (डीआइओएस कार्यालय परीक्षा कंट्रोल रूम)

प्रदेश में बैठेंगे 56 लाख परीक्षार्थी

यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट 2020 की परीक्षा मंगलवार से शुरू हो रही है। इसमें प्रदेश भर के 56 लाख से अधिक परीक्षार्थी शामिल होंगे। शासन व बोर्ड प्रशासन ने नकल रोकने के लिए प्रभावी इंतजाम किए हैं। पहली बार परीक्षा केंद्रों की ऑनलाइन निगरानी हाईटेक तरीके से होगी। 395 अति संवेदनशील व 938 संवेदनशील परीक्षा केंद्रों पर खास नजर रहेगी। ऐसे केंद्रों पर स्टेटिक मजिस्ट्रेट तैनात हैं। हाईस्कूल की परीक्षा 12 दिन (तीन मार्च तक) तो इंटर का इम्तिहान 15 दिन तक चलेगा।

 

Posted By: Divyansh Rastogi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस