लखनऊ, जेएनएन। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ कल पार्टी के नवनियुक्त राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा व ज्योतिरादित्य सिंधिया के रोड शो के दौरान जेबकतरे भी काफी सक्रिय थे। अमौसी एयरपोर्ट से प्रदेश कांग्रेस कमेटी दफ्तर तक इस रोड-शो के दौरान सैकड़ों मोबाइल फोन तथा पर्स इन जेबकतरों ने उड़ा दिया।

कांग्रेस राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा का लखनऊ में रोड शो कल जेबकतरों से लिए काफी लाभ वाला रहा। कांंग्रेस के दिग्गज नेताओं के बीच करीब 20 किलोमीटर लंबे इस रोड शो में एयरपोर्ट से ही सक्रिय जेबकतरों ने सैकड़ों मोबाइल फोन के साथ ही पर्स पर हाथ साफ कर दिया।

ट्रांसपोर्टनगर मेट्रो स्टेशन पर जेबकतरों ने दर्जन भर से अधिक के मोबाइल फोन के साथ पर्स पर हाथ साफ किया। इसके बाद बर्लिनटन चौराहे से कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने एक जेबकतरा को पकड़ लिया और जमकर पीटने के बाद पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस किसी को भी नहीं पकड़ सकी है। हरदोई निवासी इस जेबकतरे को लेकर आगे की कार्यवाही के लिए थाने लेकर चली गयी। पुलिस ने पार्टी कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों की निशानदेही पर एक संदिग्ध को हिरासत में लिया गया। मगर पुलिस एक भी मोबाइल फोन की बरामदगी नहीं कर सकी। परेशान लोग कल से लेकर आज तक थाना के चक्कर लगा रहे हैं।

रैली के दौरान ड्यूटी पर तैनात एसीएम प्रसाशन का फोन भी किसी ने चुरा लिया। चोरों ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं और नेताओं को भी नहीं बख्शा कांग्रेस के प्रवक्ता जीशान हैदर का भी मोबाइल चोरी हो गया। इसकी वजह से वह काफी परेशान नजर आए। मीडियाकर्मियों के मोबाइल पर भी चोरों ने हाथ साफ कर दिए. पुलिस साइबर सेल के सीओ अभय मिश्रा ने बताया कि पचास से ज्यादा लोगों ने फोन चोरी किए जाने की शिकायत दर्ज कराई है। इन पीडि़त लोगों में एसीएम प्रसाशन भी शामिल है। मामले की जांच की जा रही है। मोबाइल को सर्विलांस पर लगाकर छानबीन की जा रही है।

पार्टी कार्यकर्ताओं जब तक इस बात का पता चला, तब तक बहुत देर हो चुकी थी। कल की इस घटना से नाराज पार्टी कार्यकर्ता और पदाधिकारी ने सरोजनीनगर थाने परिसर में धरने पर बैठ गए और जमकर हंगामा किया। जिला युवा कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष आशीष गुप्ता ने बताया कि पार्टी के शिवम त्रिपाठी, आदर्श शुक्ला, अभिषेक पांडे, ऋषभ तिवारी ,सुभाष सिंह, विकास त्रिपाठी ,नितिन मिश्रा, पुष्पेंद्र प्रताप सिंह ,फरीद अहमद, अमजद अली, सागर कपूर दो दर्जन से ज्यादा कार्यकर्ताओं व पदाधिकारियों के मोबाइल फोन और पर्स चोरों ने पार कर दिए। 

Posted By: Dharmendra Pandey