लखनऊ(जेएनएन)। कानुपर निवासी एक युवती ने आइबी में असिस्टेंट सेंट्रल इंटेलीजेंस ऑफीसर (एसीआईओ) के पद पर तैनात अपूर्व द्विवेदी के खिलाफ दुष्कर्म समेत अन्य धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कराई है। इंस्पेक्टर आशियाना अखिलेश कुमार पांडेय के मुताबिक मामले की छानबीन की जा रही है। 

ये हे पूरा मामला 

मूलरूप से कानपुर निवासी पीडि़ता ने तहरीर में कहा है कि अपूर्व द्विवेदी लखनऊ में ही तैनात है। अगस्त के महीने में उसकी सोशल मीडिया के माध्यम से आइबी के अफसर अपूर्व द्विवेदी से मुलाकात हुई। दोस्ती के बाद आरोपित अफसर ने मुलाकात के दौरान शादी का प्रस्ताव रखा। लखनऊ बुलाकर और आशियाना के एल्डिको उद्यान के मकान संख्या 65 में रखकर डेढ़ महीने तक यौन शोषण करता रहा। समय बीतने मारपीट की और पिछले महीने जबरन कानपुर भेज दिया और शादी करने से मना कर दिया। पीडि़ता ने 23 अक्टूबर को आशियाना थाने में तहरीर दी लेकिन, कोई कार्रवाई नहीं हुई। आरोपित की मां बुंदेलखंड से भाजपा महिला मोर्चा की अध्यक्ष हैं। जिनके दबाव के चलते पुलिस टरकाती रही। साथ ही सुलह-समझौते का दबाव भी बनाया गया। जिसके बाद पीडि़ता ने सीओ कैंट तनु उपाध्याय अन्य उच्चाधिकारियों से न्याय की गुहार लगाई, तब जाकर पुलिस ने एफआइआर दर्ज की। 

डेढ़ करोड़ दे दो, हो जाएगी शादी

पीडि़त महिला के मुताबिक आरोपित व उसके परिवारीजन शादी का दबाव बनाने पर दहेज में डेढ़ करोड़ रुपये की मांग करते हैं। साथ ही यह भी कहते हैं कि डेढ़ करोड़ रुपये दे दो शादी कर दी जाएगी। 

 

Posted By: Anurag Gupta