लखनऊ (जागरण संवाददाता)। जिला प्रशासन ने पालीथिन बनाने वाली फैक्ट्री संचालकों को अल्टीमेटम दे दिया है। 15 से पहले प्रतिबंधित स्टाक को ठिकाने लगा दें वर्ना तय मियाद के बाद कार्रवाई होगी।

जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा शनिवार को कलाम सभागार में पॉलीथिन बनाने वाली फैक्ट्री संचालकों के साथ बैठक कर रहे थे। डीएम ने कहा क पर्यावरण के लिए घातक पॉलीथिन पर प्रतिबंध पूरी तरह से लगाना है। इसलिए निर्धारित मानक के अतिरिक्त जो भी भंडारण हो उसे खत्म कर दें। अगर इसके बाद किसी तरह का स्टाक पाया गया तो नियमानुसार कार्रवाई होगी। डीएम ने अफसरों को निर्देश दिए कि एसीएम और नगर निगम के जोनल अफसर लगातार इलाकों में मानीट¨रग करें और प्रतिबंध का शत-प्रतिशत पालन सुनिश्चित कराएं। डीएम ने प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अधिकारियों को भी फैक्ट्रियों की जांच करने के निर्देश दिए। डीएम ने कहा कि अगर अधिकारी निर्माण और परिवहन पर सख्त निगरानी करें तो पॉलीथिन पर काफी हद तक रोक लग जाएगी। जब दुकानों तक पहुंचेगी ही नहीं तो फिर इस्तेमाल कहां से होगी।

By Jagran