लखनऊ [राज्य ब्यूरो]। उत्तर प्रदेश में चौबीस घंटों के दौरान कोरोना वायरस से संक्रमित के 121 नए रोगी मिले, जबकि इससे कम 114 लोग स्वस्थ हुए। इस बीच दो मरीजों की मौत हो गई। प्रदेश में अब तक कुल 6.03 लाख लोग कोरोना से संक्रमित हुए हैं, जिसमें से 5.92 लाख रोगी ठीक हो चुके हैं, जबकि 8,725 लोगों की जान जा चुकी है। रिकवरी रेट अब 98.19 फीसद है। 

उत्तर प्रदेश के 41 जिलों में शुक्रवार को कोरोना का कोई नया मरीज नहीं मिला। 31 जिलों में 10 से कम मरीज हैं। महाराजगंज अब कोरोना मुक्त हो चुका है। वर्तमान में 2,184 मरीजों का उपचार हो रहा है। बीते 24 घंटे में 1.23 लाख लोगों का कोरोना टेस्ट किया गया। अभी तक 3.1 करोड़ लोगों की कोरोना जांच की जा चुकी है।

पांच जिलों में 100 से ज्यादा मरीज : उत्तर प्रदेश में लखनऊ व मेरठ जिले में सबसे ज्यादा 294 मरीज हैं। दूसरे नंबर पर प्रयागराज में 160 और तीसरे नंबर पर उन्नाव में 118 रोगी हैं। बलिया में इस समय 112 रोगी हैं। प्रदेश में यह पांच जिले ऐसे हैं, जहां इस समय 100 से अधिक रोगी हैं।

महीने भर में घटे 67 फीसद रोगी : उत्तर प्रदेश में कोरोना के मरीजों की संख्या लगातार कम हो रही है। एक महीने पहले 6537 एक्टिव केस थे, जो घटकर अब 2184 रहे गए हैं। 4,353 रोगी घटे हैं। यानी 67 फीसद मरीज कम हुए हैं। 

1.39 लाख स्वास्थ्य कर्मियों ने लगवाई वैक्सीन की दूसरी डोज : यूपी में कोरोना से बचाव के लिए चलाए जा रहे टीकाकरण अभियान के तहत स्वास्थ्य कर्मियों को दूसरी डोज लगाई गई। 29 जनवरी को जिन 1.68 लाख स्वास्थ्य कर्मियों ने वैक्सीन की पहली डोज लगवाई थी, उन्हें आमंत्रित किया गया था। रात नौ बजे तक की रिपोर्ट के अनुसार 1.39 लाख स्वास्थ्य कर्मियों के टीका लगवाने की जानकारी मुख्यालय को मिल चुकी थी। देर रात तक जिलों से टीके की दूसरी डोज लगवाने की सूचना अपडेट होती रही। अभी इसमें और वृद्धि होगी स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के अधिकारियों ने दावा किया कि 95 फीसद से अधिक स्वास्थ्य कर्मियों ने दूसरी डोज लगवाई है। डाटा एकत्र किए जाने का काम चल रहा है।

चार मार्च से 60 वर्ष से अधिक उम्र के बुजुर्गों को लगेगा टीका : शुक्रवार को टीकाकरण के 1,971 सेशन चलाए गए। सभी जिलों में टीकाकरण के लिए पहले ही पर्याप्त इंतजाम कर लिए गए थे। लाभार्थियों के पंजीकृत मोबाइल नंबर पर दूसरी डोज लेते ही टीकाकरण पूरा होने का संदेश भेजा गया। यही नहीं उन्हें एक लिंक भी एसएमएस किया गया जिसके माध्यम से टीका लगवाने का प्रमाण पत्र डाउनलोड किया जा सकता है। चार मार्च से प्रदेश में 60 वर्ष से अधिक उम्र के बुजुर्गों को टीका लगाया जाएगा। फिर 45 साल से लेकर 60 साल तक की उम्र के वह लोग जो गंभीर रोगों से पीडि़त हैं, उन्हें टीका लगाया जाएगा।इसकी तैयारियां तेज कर दी गई है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021