-केंद्रीय कृषि मंत्रालय की टीम ने परखी खरीफ की तैयारियां

जाब्यू, लखनऊ : केंद्रीय कृषि सचिव आशीष बहुगुणा के नेतृत्व शुक्रवार को पहुंची टीम ने खरीफ फसलों की तैयारियों का जायजा लिया और धान की उत्पादकता बढ़ाने के लिए उन्नत प्रजाति के बीज का उपयोग बढ़ाने की सीख दी। इसके लिए कटक के कृषि वैज्ञानिकों से मंत्रणा कर क्षेत्रीय मांग के अनुरूप प्रजाति के बीजों का चयन करने की सलाह दी।

कृषि भवन के सभागार में दो सत्रों में चली चर्चा में प्रदेश के कृषि निवेश प्रबंधन को सराहा गया। कृषि निदेशक डीएम सिंह ने कृषि निवेश प्रबंधन कलेन्डर के बारे में विस्तार से बताया। इसके अलावा खरीफ फसलों के बीज, खाद व कीटनाशक दवाओं की समय से उपलब्धता सुनिश्चित होने के बारे में जानकारी दी। किसानों को क्रेडिट कार्ड उपलब्ध कराने का लक्ष्य पूरा करने का आश्वासन भी दिया।

अपने संबोधन में केंद्रीय सचिव आशीष बहुगुणा ने कृषि विज्ञान केंद्रों की सक्रियता व उपयोगिता बढ़ाने पर विशेष बल दिया। किसानों को कृषि तकनीक की नवीनतम जानकारी उनकी भाषा में ही उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। प्रमुख सचिव कृषि देवाशीष पंडा ने नई कृषि नीति की जानकारी देते हुए सरकार की विभिन्न योजनाओं के बारे में बताया। पूर्वी उत्तर प्रदेश में हरित क्रांति के दूसरे चरण की उपलब्धियां गिनायी। वहीं पश्चिमी उप्र के लिए तैयार विशेष योजना पर भी बैठक में चर्चा की गई।

इस मौके पर केंद्रीय कृषि संयुक्त सचिव मुकेश खुल्लर, आयुक्त जेएस संधु व सीपी श्रीवास्तव भी मौजूद रहे।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस