फोटो - 1

ललितपुर : ़िजला महिला चिकित्सालय में जन्मा बच्चा।

:::

- अनोखे बच्चे को बचाने में जुटे चिकित्सक

- बड़े और खर्चीले ऑपरेशन की जरूरत, ़गरीब है परिवार

ललितपुर : ललितपुर ़िजले में एक ऐसा बच्चा पैदा हुआ है, जिसका दिल उसके शरीर के बाहर है और धड़क रहा है। चिकित्सकों के मुताबिक नवजात एक्टोपिया कोर्डिस नामक दुर्लभ बीमारी से ग्रसित है। उसके ़िजन्दा रहने की उम्मीद न के बराबर थी, लेकिन वह अभी ़िजन्दा है। आगे ़िजन्दा रहने के लिए उसे तुरन्त एक बड़े ऑपरेशन की आवश्यकता है, जो बेहद खर्चीला होगा, जबकि बच्चे के परिजन गरीब है। फिलहाल नवजात को मेडिकल कॉलिज झाँसी रिफर कर दिया है।

निकटवर्ती ग्राम रोंड़ा की सीमा को प्रसव पीड़ा होने पर मंगलवार को परिजनों ने उसे जिला महिला चिकित्सालय में भर्ती कराया। यहाँ उसने इस बच्चे को जन्म दिया तो सब हैरान रह गए। बच्चे का दिल उसके सीने से बाहर लटका हुआ लगातार धड़क रहा था। स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. आशु बजाज ने बताया कि यह दुर्लभ बीमारी 10 लाख लोगों में से सिर्फ 8 में होती है। इससे पीड़ित 90 फीसद नवजात जन्म से 3 दिन के भीतर दम तोड़ देते है। बताया गया कि नवजात को बचाने के लिये जल्द से जल्द बड़ा ऑपरेशन करना होगा, जो बेहद खर्चीला है। समस्या यह है कि बच्चे के पिता अरविन्द मेहनत मजदूरी कर किसी तरह अपनी आजीविका चला रहा है। उन्हें अब सरकारी मदद की उम्मीद है। अनोखे बच्चे के जन्म लेते ही चिकित्सकों के निर्देशन में नर्सिग स्टाफ ने देखरेख की फिर उसे एसएनसीयू में शिफ्ट करा दिया गया। यहाँ नवजात रोग विशेषज्ञों ने उसे मेडिकल कॉलिज झाँसी रिफर कर दिया। मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ. हरेन्द्र सिंह चौहान ने सरकारी ऐम्बुलेंस मुहैया कराई। जन्म से लेकर रिफर किए जाने तक बच्चा जीवित था और उसकी धड़कनें पूरी तरह से सामान्य थीं।

Edited By: Jagran