ललितपुर ब्यूरो :

चौंकिये नहीं यह सत्य है। विगत 6 दिनों से अपनी तनख्वाह की माँग कर रहे जल संस्थान के मजदूरों ने अब भगवान बाँके बिहारी पर आस्था जताते हुए उनसे मदद की गुहार लगायी है। उक्त मजदूरों ने यह कदम उस वक्त उठाया जब उनकी माग पर अधिकारी और ठेकेदार गौर नहीं कर रहे है।

बताते चलें कि जल संस्थान के दर्जनों मजदूर विगत 15-20 वर्षाे से झाँसी डिवीजन जल संस्थान की ललितपुर, महरौनी, मड़ावरा, बार, पाली, बाँसी, बिरधा, जाखलौन, धौर्रा, बानपुर, गदयाना, तालबेहट इकाइयों में अस्थायी रूप से जल संस्थान में मजदूरी करते चले आ रहे है। वर्ष भर शहर की पेयजल व्यवस्था को दुरुस्त रखने में पसीना बहा रहे हैं। बीते आठ महीनों से मजदूरी का पैसा न मिलने के कारण ये मजदूर भुखमरी की कगार पर पहुँच गये है। न तो वे अपने बच्चों की स्कूल, कॉलिज, कोचिंग की फीस भर पा रहे है और न ही घर गृहस्थी के काम ही निपटा रहे है। विगत 6 दिनों से घण्टाघर पर चल रहे धरना प्रदर्शन के बावजूद अफसर व ठेकेदार उनकी एक नहीं सुन रहे है। ऐसे में गुरूवार को जलविहार पर्व पर मजदूरों ने विमानों में विराजे बाँके बिहारी को ज्ञापन सौंपकर विभागीय अफसर व ठेकेदार की सद्बुद्धि की कामना की व उन्हीं से ही तनख्वाह दिलाये जाने की गुहार लगायी। ज्ञापन पर सज्जान कुमार, जयकुमार, रामस्वरूप, बब्बू, दलपत राम, विपिन, पर्वत सिंह, भारत भूषण, पर्वत, रविन्द्र, अशोक, रामदास झा, सुकराम, सुशील, कमलेश दुबे, शिशुपाल सिंह, आशाराम, रामचन्द्र आदि के हस्ताक्षर बने हुए थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप