नगर में महिलाओं और लड़कियों से जुड़े अपराधों की बाढ़ सी आ गई है। नाबालिग लड़की को बंधक बनाकर जबरन देह व्यापार कराने का मामला अभी लोग भूल भी नहीं पाए थे, कि सोमवार को यौन उत्पीड़न से क्षुब्ध होकर 1 लड़की ने ज़हर खाकर जान देने का प्रयास किया। 1 मोबाइल केयर कम्पनि का संचालक लड़की का यौन शोषण कर रहा था और लड़की ने उसकी बात मानने से इकार कर दिया तो संचालक ने अपने सहकर्मी के साथ मिलकर लड़की का अश्लील वीडियो वायरल कर दिया। इस घटना ने पुलिस महकमे में खलबली मचा दी है।''

::

वेलेन्टाइन डे पर पहली बार बनाया था लड़की को शिकार

ललितपुर:

तालाबपुरा में रहने वाली लड़की के अनुसार लगभग ढाई वर्ष पूर्व बीए फाइनल की परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद वह काम्पटीशन की तैयारी में जुट गई थी। वह आत्मनिर्भर बनने के उद्देश्य से घण्टाघर के पास स्थित 1 मोबाइल केयर सेण्टर पर काम करने लगी। 14 फरवरी वेलेन्टाइन डे पर रविवार को सेण्टर बन्द होने के बाद भी संचालक ने उसे वहाँ बुलाया और पहली बार उसके साथ गलत काम किया था।

::

बाक्स में,

दोस्तों को परोसने का प्रस्ताव ठुकराकर छोड़ी नौकरी

पीड़िता के मुताबिक सेण्टर चालक ने लगातार यौन शोषण करने के साथ ही उसे दोस्तों को परोसने का प्रयास किया था, जिसे ठुकराकर उसने नौकरी छोड़ दी थी और अपने घर पर रहकर कॉम्पटीशन की तैयारी करने लगी थी। करियर और बदनामी के भय के कारण वह सबकुछ सहन करके चुप्पी साधे रही, लेकिन आरोपी ने उसका घर तक पीछा नहीं छोड़ा और मनमानी करने लगा, जिसका विरोध करने पर अश्लील वीडियो वायरल कर दिया, जिससे दुखी होकर उसे अपनी जान देने का फैसला लेना पड़ा।

::

बाक्स में,

हरकत में आया पुलिस प्रशासन

यौन उत्पीड़न और उसके बाद अश्लील वीडियो वायरल किए जाने से क्षुब्ध होकर लड़की ने सोमवार सुबह 10 बजे जहर खा लिया। हालत बिगड़ने पर उसे इलाज को जिला अस्पताल ले जाया, जहाँ पीड़िता ने आपबीती बया की। इसकी भनक लगते ही पुलिस महकमा सक्रिय हो उठा। पुलिस अधीक्षक डॉ. ओपी सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक अवधेश कुमार विजेता, क्षेत्राधिकारी सदर हिमाशु गौरव, प्रभारी निरीक्षक कोतवाली एके सिंह चौहान प्रभारी महिला थानाध्यक्ष नीतू सिंह के साथ अस्पताल पहुंँचे, जहाँ पुलिस अधीक्षक ने चिकित्सक से लड़की की स्थिति के बारे में जानकारी ली तथा पीड़िता के परिजनों को समुचित कार्रवाई का आश्वासन दिया।

::

बाक्स में,

मोबाइल सेण्टर संचालक सहित 2 पर मुकदमा

मोहल्ला तालाबपुरा में रहने वाले युवक ने कोतवाली पुलिस को तहरीर देकर बताया कि उसकी बहन (19) ढाई वर्ष पूर्व घण्टाघर के पास स्थित मोबाइल केयर सेण्टर पर काम करती थी, जहाँ उसकी बहन को प्रेम प्रसंग में फंसाकर उसके साथ गलत किया काम किया था। 1 दिन परिजनों की गैरमौजूदगी में मोबाइल की दुकान का संचालक उसके घर आया, जहाँ अकेली मौजूद उसकी बहन ने उसे चाय बनाई, तभी आरोपी ने चाय में नशीला पदार्थ मिला दिया। इसके बाद वह उसकी बहन का अश्लील वीडियो बना लिया। उसी वीडियो को लेकर आरोपी उसकी बहन का लगातार मानसिक और शारीरिक शोषण करता रहा, जिससे क्षुब्ध होकर बहन ने परिजनों को आपबीती सुनाई, तो आरोपी ने मोबाइल सेण्टर में काम करने वाले 1 पड़ोसी युवक के साथ मिलकर बहन की अश्लील वीडियो वायरल कर दी। सोमवार सुबह इसकी जानकारी मिलने पर उसकी बहन ने जहरीला पदार्थ खाकर जान देने का प्रयास किया। कोतवाली सदर पुलिस ने तहरीर के आधार पर मोबाइल केयर संचालक आशीष जैन एवं सोनू विश्वकर्मा निवासी तालाबपुरा के खिलाफ 376,328, 66/67 आइटी ऐक्ट मुकदमा पंजीकृत करके आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

::

फोटो-2

बाक्स में,

इनका कहना है -

''यौन शोषण और अश्लील वीडियो वायरल होने के कारण लड़की के जहर खाने के मामले को गम्भीरता से लिया जा रहा है। अस्पताल में चिकित्सकों से लड़की की स्थिति के बारे में जानकारी ली गई है, जिसे सामान्य बताया गया है। कोतवाली सदर में नामजद आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया। जल्द ही उनको गिरफ्तार करके जेल भेजा जाएगा। इसके लिए पुलिस की स्पेशल टीम को कड़े निर्देश जारी कर दिए गए है।''

डॉ. ओपी सिंह

पुलिस अधीक्षक, ललितपुर।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप