राजघाट/ललितपुर :

राजघाट बाँध के चौकीदार का शव नहर के किनारे झाड़ियों के किनारे पड़ा पाया गया, जिससे इलाके में सनसनी फैल गई। मृतक के परिजनों चौकीदार की हत्या की आशका जताई है, वहीं पुलिस जंगली कीड़े के काटने से मौत की सम्भावना जता रही है। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में मृत्यु का कारण स्पष्ट नहीं हो पाया है, इस कारण चिकित्सकों ने बिसरा सुरक्षित कराया है।

राजघाट बाँध पर चौकीदार के पद पर कार्यरत रामदयाल प्रजापति (50) पुत्र जालम का शव सीमेन्ट स्टोर नहर से करीब 100 मीटर दूर पड़ा पाया गया, जिससे इलाके में सनसनी फैल गई, उसका पेंट शव से लगभग पाच मीटर दूर पड़ा हुआ था, वहीं आसपास चप्पल और तौलिया भी पड़ी हुई थी। चौकीदार सिर्फ शर्ट और अण्डरवियर पहने हुए था। परिजनों से घटना की जानकारी पाकर राजघाट चौकी प्रभारी अजमेर सिंह भदौरिया मौके पर पहुंँचे और मुआयना के बाद उच्चाधिकारियों को घटनाक्रम से अवगत कराया, जिसके बाद प्रभारी निरीक्षक कोतवाली एके सिंह भदौरिया मौके पर पहुंँचे और घटनास्थल के हालातों का बारीकी से निरीक्षण किया। रामदयाल के भाई ग्यासी का कहना है कि चौकीदार बुधवार सुबह सात बजे दूध लेकर आने की बात कहकर घर से निकला था। इसके बाद वापस नहीं लौटा, जिसकी सूचना राजघाट चौकी पुलिस को दी गई, तभी से परिजन चौकीदार की खोजबीन में जुटे थे। गुरूवार को उसका शव बरामद हो गया। परिजनों ने विपक्षियों पर चौकीदार की हत्या कर शव फेंकने की आशका प्रकट की, वहीं कोतवाली प्रभारी निरीक्षक के अनुसार चौकीदार की मौत प्रथम दृष्टया जंगली जानवर के काटने की वजह से हुई है, कारणों का पता लगाने के लिए मृतक के शव का पोस्टमॉर्टम कराया गया, सूत्रों के अनुसार पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मृतक के शरीर में चोट का कोई निशान नहीं पाया गया है, वहीं मृत्यु का कारण स्पष्ट न हो पाने की वजह से चिकित्सकों ने बिसरा सुरक्षित कराया है।

::

बॉक्स में,

लड़की के भागने के मामले में

भी किया जा रहा था प्रताड़ित

चौकीदार के परिजनों के अनुसार राजघाट की एक लड़की बीती 22 मई को गाँव से भाग गई थी। लड़की के परिजनों ने चौकीदार पर लड़की को भगाने में सहयोग करने के आरोप लगाकर चौकी में शिकायत कर दी थी, जिसके बाद चौकीदार को चौकी में ले जाकर कड़ी पूछताछ भी गई थी। शाम को लड़की की खोजबीन करने की हिदायत देकर चौकीदार को छोड़ दिया गया था, अन्यथा की स्थिति में जेल भेजने की चेतावनी भी दी गई थी। लड़की के परिजन चौकीदार को राजीनामा के नाम पर प्रताड़ित कर रहे थे तथा एक लाख रुपयों की माँग कर रहे थे, इन्हीं कारणों के चलते परिजनों ने चौकीदार की हत्या की आशका प्रकट की है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस