फोटो-9

ललितपुर: जल स्थान के जेई का घिराव करते बुविसे कार्यकर्ता।

::

ललितपुर ब्यूरो:

जिले में बढ़ती पेयजल किल्लत को लेकर विपक्षी दलों के अलावा विभिन्न संगठनों द्वारा प्रदर्शन जारी है। पेयजल समस्या को आन्दोलन का बिगुल फँूक चुकी बुन्देलखण्ड विकास सेना ने आज पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत जल संस्थान के जेई का घिराव किया। इस दौरान चेतावनी दी गई कि एक सप्ताह में पेयजल व्यवस्था सुदृढ़ कराई जाए, अन्यथा नगर में उग्र आन्दोलन किया जाएगा।

बुन्देलखण्ड विकास सेना के केन्द्रीय अध्यक्ष हरीश कपूर टीटू की अगुवाई में कार्यकर्ता जल संस्थान पहुँच गए। यहाँ अवर अभियन्ता प्रशान्त त्रिपाठी से कार्यकर्ताओं द्वारा एक के बाद एक सवाल दागे गए। उन्होंने बताया कि क्षमता से कहीं ज्यादा संयोजन हो जाने की वजह से यह समस्या आ रही है, जिसको लेकर संस्थान द्वारा प्रयास किए जा रहे है। वहीं जिन क्षेत्रों में हैण्डपम्प्स से पानी उपलब्ध होता था, वहाँ वॉटर लेबल गिरने से भी समस्या आ गई है। उन्होंने शीघ्र ही समस्या के सुलझने की बात कही। बुविसे ने जल संस्थान को एक सप्ताह में शहर की पेयजल आपूर्ति दुरुस्त कर लेने की चेतावनी देते हुए कहा कि बार-बार मोटर का खराब होना और इसकी वजह से पानी सप्लाई बाधित होना अब बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इसकी वैकल्पिक व्यवस्था की जाए और जिस जिस मोहल्ले में पानी सप्लाई बाधित होती है वहाँ टैंकर के माध्यम से सप्लाई कराई जाए। समस्या में सुधार न होने पर बुविसे उग्र आन्दोलन के लिए मजबूर होगी।

इस दौरान जिला कमाण्डेन्ट सुरेश नायक, मनोज शर्मा, मुन्ना त्यागी, सन्तोष श्रीवास्तव, कदीर खान, गफूर खान, विनोद साहू, दीपक साहू, पुष्पेन्द्र शर्मा, नन्दराम कुशवाहा, सन्तोष चन्देल, दीपक ठाकुर मौजूद रहे।

::

बॉक्स

::

कांग्रेस भी आरपार के मूड में

जिले में पेयजल को लेकर मची हायतौबा को लेकर अब कांग्रेस भी आरपार की लड़ाई के मूड में आ गई है। जिलाध्यक्ष दुर्गाप्रसाद कुशवाहा की अगुवाई में कांग्रेसियों की बैठक हुई जिसमें ऐलान किया गया कि जिले में पेयजल समस्या को लेकर काग्रेस 7 जून से तीन दिवसीय जल सत्याग्रह और उग्र आन्दोलन होगा। इसके तहत घण्टाघर पर नगर पालिका प्राँगण में क्रमिक धरना प्रदर्शन भी किया जाएगा, जो शामं 6 से 8 बजे तक होगा। इस दौरान बुद्धि शुद्धि यज्ञ, जल संस्थान का घिराव व अन्य कार्यक्रमों के माध्यम से सोये हुए जिला प्रशासन को जगाने का कार्य किया जाएगा। बैठक में रामस्वरूप देवलिया, बहादुर सिंह अहिरवार, डॉ. सुनील खजुरिया, जसपाल सिंह बण्टी, विजय विक्रम सिंह नाती राजा, हरीबाबू शर्मा, बिट्टू राजा, ऊदल सिंह पटेल, विनोद मिश्रा, उवेश खाँ, आसिफ खाँ, मोन्टी शुक्ला, देशपत प्रधान, वीरेन्द्र राजा, समर खाँ, उमाकान्त रजक, जगभान सिंह, बालचन्द्र रजक, तुलसीराम कुशवाहा, वीरेन्द्र रजक, बन्टू रावत आदि मौजूद रहे। संचालन जिला महासचिव अजय प्रताप सिंह तोमर ने किया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस