ललितपुर ब्यूरो : नेहरू नगर में आए दिन बाधित हो रही पेयजलापूर्ति व्यवस्था की हकीकत जानने उप जिलाधिकारी सदर महेश प्रसाद दीक्षित और जल संस्थान के अधिशासी अभियंता केपी सिंह ने सिद्दन पम्प हाऊस का निरीक्षण किया। इस दौरान पानी की मोटर चालू करवाकर देखी गई। वहीं नेहरू नगर में सार्वजनिक स्थलों पर लगे नल और हैण्डपम्प्स का जायजा लिया। वहीं वार्ड भ्रमण कर लोगों से पेयजल समस्या की जानकारी ली। मुहल्लेवासियों की शिकायत पर पानी के टैकर्सं के चक्कर बढ़ाने के निर्देश जल संस्थान के अधिकारियों को दिये।

नेहरू नगर में इन दिनों पानी को लेकर त्राहि-त्राहि मची हुई है। हालाँकि जल संस्था द्वारा टैकरों के माध्यम से पेयजल आपूर्ति कराई जा रही है लेकिन वह नाकाफी साबित हो रही है। पेयजल आपूर्ति व्यवस्था तो पूरी तरह से धड़ाम हो चुकी है। आए दिन आपूर्ति व्यवस्था गड़बड़ाने से मुहल्लेवासियों को चिलचिलाती धूप में लोगों को पानी का इतजाम करने के लिये दूरदराज के क्षेत्रों तक भटकना पड़ता है। कोई साइकिल पर तो कोई रिक्शा में खाली बर्तन लेकर पानी के लिये भटकता है तो कोई टैकर्स के इतजार में दिन भर बैठा रहता है। टैकर देखते ही लोग खाली बर्तन लेकर दौड़ पड़ते है। बीते दस दिन में सिद्दन के पास स्थित पम्प हाऊस की मोटर दो बार फुँक गई जिसके चलते लोगों को नौपता के दिनों में बँूद-बूँद पानी को तरसना पड़ा। विगत 23 मई को पम्प हाऊस की मोटर खराब हुई तो वहीं 1 जून को दोबारा मोटर खराब हो गई। हालाँकि जल संस्थान कर्मियों ने तत्परता दिखाई और मोटर ठीक कर दी जिससे 3 जून को पेयजल आपूर्ति सुचारू हो सकी। पेयजल समस्या से त्रस्त होकर मुहल्लेवासियों ने शनिवार को कलेक्टरेट में प्रदर्शन भी किया था। नेहरू नगरवासियों को पेयजल समस्या से निदान दिलाने के मकसद से जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारी सदर और जल संस्थान के अफसरों को नेहरू नगर में पेयजल की हकीकत जानने के निर्देश दिये।

जिलाधिकारी के निर्देश मिलते ही उप जिलाधिकारी सदर महेश प्रसाद दीक्षित और अधिशासी अभियंता जल संस्थान केपी सिंह ने रविवार को सुबह लगभग 9 बजे नेहरू नगर का भ्रमण किया। वार्ड 1 सिद्दनपुरा में संचालित पम्प हाऊस का निरीक्षण किया, जहाँ पानी की मोटर को चालू कराकर चैक किया जो चालू हालत में मिली। उन्होंने लखनलाल की राशन की दुकान के सामने लगा सरकारी नल को भी खोलकर चैक किया जो ठीक पाया गया। इसके बाद वह प्राइमरी पाठशाला स्कूल के पास पहुचे जहाँ मुहल्लेवासियों से पेयजल आपूर्ति की जानकारी ली। मुहल्लेवासियों ने बताया कि पेयजल आपूर्ति आए दिन बाधित होने से भीषण गर्मी में बूंद-बूंद पानी को तरसना पड़ता है। जल संस्थान के टैकर भी नियमित रूप से नहीं आते और जो आते है वह मुख्य मार्ग तक ही सीमित है। मुहल्लेवासियों ने गलियों में टैकर भिजवाने के साथ ही टैकरों के चक्कर बढ़ाये जाने की माँग की। इस पर उप जिलाधिकारी सदर ने जल संस्थान के अफसरों को पानी के टैकर्स के चक्कर बढ़ाये जाने के निर्देश दिये, ताकि अधिक से अधिक लोगों को पानी उपलब्ध कराया जा सके। मुहल्लेवासियों ने बताया कि प्राइमरी पाठशाला के पास पूर्व में टैकर खड़ा किया जाता था, लेकिन अब बन्द कर दिया गया। इस पर निर्देश दिये गये कि उक्त स्थान पर नियमित रूप से टैकर खड़ा कराया जाये। उप जिलाधिकारी सदर ने बताया कि नेहरू नगर में बार-बार आ रही पेयजल समस्या की हकीकत जानने के लिये मुहल्ले का भ्रमण किया। प्रयास किया जा रहा है कि पेयजल आपूर्ति व्यवस्था सुचारू रहे और लोगों को गर्मी में पानी के लिये भटकना नहीं पड़े।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस