लखीमपुर : खमरिया क्षेत्र के एक गांव के युवक ने अज्ञात कारणों के चलते पीलीभीत-बस्ती मार्ग पर ऐरा पुल पर बाइक खड़ी कर शारदा नदी में छलांग लगा दी। सूचना पाकर परिवारजन और चौकी इंचार्ज खमरिया शिव प्रकाश पांडेय अपने दलबल के साथ घटनास्थल पर युवक की तलाश में जुट गए हैं। प्रशासनिक व्यवस्था से आक्रोशित स्वजन सहित भीड़ हाईवे जामकर गोताखोर बुलाने की मांग पर अड़ गई। इस बीच मौके पर पहुंचे सीओ धौरहरा टीएन दुबे, थाना प्रभारी निरीक्षक ईसानगर संजय त्यागी , तहसीलदार अनिल कुमार यादव के समझाने पर जाम खुल गया। 12 बजे पहुंची फ्लड पीएससी ने सर्च अभियान शुरू कर दिया।

खमरिया चौकी क्षेत्र के गांव बेहटा निवासी सत्येंद्र कटियार (33) पुत्र छेदी लाल कटियार के स्वजन ने बताया गुरुवार सुबह करीब पांच बजे के आसपास घर से बिना बताए शारदा नदी के पुल पर पहुंचे और अपनी बाइक वहीं पर खड़ी करके नदी में छलांग लगा दी, रास्ते से गुजर रहे राहगीर द्वारा लावारिश हालत में खड़ी बाइक और पास में पड़े चप्पलों को देखकर अनहोनी घटना की सूचना पाते ही स्वजन में कोहराम मच गया। आनन-फानन में ग्रामीण और परिवारजन शारदा पुल पर इकट्ठे हो गए। खमरिया चौकी इंचार्ज शिवप्रकाश पांडेय अपने दलबल के साथ पहुंचकर नाव के सहारे युवक की तलाश में जुट गए लेकिन, घटना के सात घंटे बीत जाने के बाद भी युवक का कहीं सुराग नहीं लग सका है। आक्रोशित भीड़ ने किया हाईवे जाम छह घंटे बीतने के बाद भी युवक का पता नहीं चल पाने से गुस्साए परिवारजन व भीड़ ने गोताखोरों को बुलाए जाने की मांग को लेकर पीलीभीत बस्ती मार्ग को जामकर धरने पर बैठ गए। यह देख खमरिया चौकी इंचार्ज ने यथास्थिति से उच्चाधिकारियों को अवगत कराया। सीओ धौरहरा टीएन दुबे व थाना प्रभारी ईसानगर संजय त्यागी तहसीलदार अनिल यादव ने ग्रामीणों से धैर्य बनाए रखने की अपील की। आश्वासन दिया कि जल्द ही गोताखोरों की टीम घटनास्थल पर पहुंच रही है चौकी इंचार्ज से आश्वासन मिलने के बाद ग्रामीणों ने मार्ग खोल दिया।

Edited By: Jagran