लखीमपुर : कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर को लेकर सरकार जहां जितनी सजग है, तो वहीं स्वास्थ्य विभाग मूड़ासवारान क्षेत्र में वैक्सीनेशन को लेकर फिसड्डी साबित हो रहा था। इसका खामियाजा यह रहा था कि मूड़ासवारान क्षेत्र की हजारों की आबादी बिना वैक्सीनेशन के इधर-उधर घूम रही थी, बल्कि हर दिन पीएचसी पर तमाम ग्रामीण वैक्सीन लगवाने को लेकर पहुंचते थे लेकिन, मूड़ा पीएचसी पर वैक्सीन न होने के कारण उनको बैरंग ही वापस लौटना पड़ता था

इसको लेकर दैनिक जागरण ने सोमवार के अंक में 'मूड़ा पीएचसी में 12 दिन से टीकाकरण अभियान ठप' शीर्षक से खबर छापी थी। इसका संज्ञान लेते हुए सीएचसी अधीक्षक बिजुआ ने मूड़ा पीएचसी पर मंगलवार को वैक्सीनेशन का कार्यक्रम संपन्न कराया। इसमें सीएचसी बिजुआ से आई 200 डोज वैक्सीन में से मंगलवार को ही 12 बजकर 10 मिनट तक 60 लोगों का वैक्सीनेशन किया जा सका, आगे वैक्सीनेशन जारी रहा। वैक्सीनेशन को लेकर लोगों में खूब उत्साह देखने को मिला।

मूड़ासवारान की पीएचसी में कोरोना की वैक्सीन पूर्ण रूप से सभी को नहीं लग पा रही थी, क्योंकि पीएचसी में 19 जुलाई के बाद से एक अगस्त तक वैक्सीनेशन का कार्यक्रम नहीं रखा गया था। इस कारण क्षेत्र के लोगों को वैक्सीन नहीं लग पा रही थी। दूसरी खुराक लगवाने वालों को भी जानकारी न होने के कारण उनका समय निकल जाता था। इसके चलते वह लोग दूसरी खुराक नहीं लगवा पा रहे थे। इस कारण क्षेत्र में यह समस्या बराबर बनी हुई थी। इसकी जानकारी होने के बाद भी स्वास्थ्य विभाग आंखों पर पट्टी बांधे हुए था लेकिन, जब इस दुर्दशा को दैनिक जागरण ने सोमवार के अंक में छापा तो अगले ही दिन पीएचसी पर वैक्सीनेशन का कार्यक्रम जोर शोर से चला।

Edited By: Jagran