लखीमपुर: शिक्षकों को तकनीकी प्रशिक्षण दिया जाएगा। जिन विद्यालयों को बोर्ड परीक्षा केंद्र नहीं बनाया गया है। वहां के प्रधानाचार्य और शिक्षकों को जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय में एक दिवसीय तकनीकी प्रशिक्षण देकर सूचना प्रसारण के साथ-साथ नकल रोकना भी सिखाया जाएगा। जिला विद्यालय निरीक्षक डॉ. आरके जायसवाल ने बताया कि बोर्ड परीक्षाओं में नकल रोकने के लिए इस बार बोर्ड ने भी सख्ती बरती है और कॉपियों के ऊपर कोड नंबर डाल दिए हैं। यही को¨डग वाली कॉपी ही परीक्षार्थियों को दी जाएंगी। डीआइओएस ने बताया कि इसके अलावा जिन विद्यालयों को परीक्षा केंद्र नहीं बनाया गया है। वहां के प्रधानाचार्य और शिक्षक बोर्ड परीक्षा में किस तरह भागीदारी करें। इसके लिए उन्हें तकनीकी प्रशिक्षण दिया जाएगा। जिसमें इंटरनेट चलाना सूचनाओं का प्रसारण वाट्सएप चलाना मेल करना, सभी कुछ सिखाया जाएगा। केंद्र व्यवस्थापकों को भी इस बात की जानकारी दी जाएगी। बोर्ड परीक्षा के दौरान कहीं भी ऐसे शिक्षकों की ड्यूटी लगाई जा सकती है। जिससे नकल रोकने में काफी मदद मिलेगी। यह प्रशिक्षण जनवरी के आखिरी हफ्ते में होना है। ऐसे विद्यालयों के प्रधानाचार्य-प्रबंधकों को सूचना भी भेजी गई है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप