लखीमपुर : आगामी त्योहारों को लेकर शांति व्यवस्था के मद्देनजर पुलिस प्रशासन सतर्क हो गया है। बुधवार को जिले भर के सभी थानों पर पीस कमेटी की बैठकें हुईं, जिसमें पुलिस प्रशासन ने संभ्रांत लोगों से शांति व्यवस्था को लेकर सहयोग बनाए रखने की अपील की। इसके बाद सभी थाना क्षेत्रों में पुलिस ने अर्धसैनिक बलों व पीएसी के साथ रूट मार्च भी निकाला। ताकि आम जनता में सुरक्षा को लेकर विश्वास बना रहे।

एसपी विजय ढुल के निर्देशन में हुई पीस कमेटी की बैठकों में पुलिस-प्रशासन के अधिकारियों ने लोगों से शांति-व्यवस्था को लेकर चर्चा की। कहीं कोई अप्रिय घटना त्योहारों के दौरान न हो, इसके लिए अफवाहों से बचने और अराजक तत्वों से सावधान रहने की बात अधिकारियों ने लोगों से कही। जनता में शांति एवं सुरक्षा का भाव उत्पन्न करने के लिए समस्त थानों द्वारा अर्धसैनिक बल व पीएसी बल के साथ रूट मार्च किया गया। इससे आम जनमानस में सुरक्षा एवं पुलिस में विश्वास की भावना और सु²ढ़ हुई। एसपी ने बताया कि लोगों से संवाद स्थापित करके आगामी त्योहारों को शांति एवं सौहार्दपूर्ण वातावरण में संपन्न कराया जाएगा। मां दुर्गा की मूर्ति विसर्जन में जा सकेंगे पांच लोग मां दुर्गा की मूर्ति विसर्जन के लिए पांच लोग ही जा सकेंगे। इसके साथ ही नदियों में विसर्जन नहीं किया जा सकेगा पास में गड्ढा खोदकर मूर्ति विसर्जन करना होगा। कोतवाली में आयोजित पीस कमेटी की बैठक में कोतवाल अजय राय ने कहा कि शासन की गाइड लाइन के अनुसार कोरोना प्रोटोकाल का पालन करते हुए पांच लोगों से अधिक मां दुर्गा की मूर्ति विसर्जन में नहीं जा सकेंगे। इसी के साथ आने वाले दशहरा तथा वारावफात के त्योहार आपसी भाईचारे के साथ मिलजुल कर मनाएं। कोई नई परंपरा न डालें तथा भीड़भाड़ बिल्कुल नहीं लगाएं। उन्होंने लोगों से क्षेत्र में गड़बड़ी फैलाने वाले अराजकतत्वों की जानकारी पुलिस को देने की जरूरत पर बल दिया। बैठक में ग्राम स्तरीय जनप्रतिनिधियों सहित गणमान्य नागरिक समाजसेवी के साथ पुलिस चौकी बिजुआ पड़रिया तुला प्रभारी मौजूद थे।

Edited By: Jagran