लखीमपुर: मकर संक्रांति का पावन पर्व आज मंगलवार को मनाया जाएगा, क्योंकि इस वर्ष 14 जनवरी सोमवार को रात दो बजकर 25 मिनट पर सूर्य मकर राशि में प्रवेश करेंगे। इसलिए संक्रांति का पुण्यकाल 15 जनवरी होगा।

चंद्रकला आश्रम देवकली के आचार्य प्रमोद दीक्षित ने बताया कि शास्त्र का नियम है कि मकर राशि की सूर्य संक्रांति यदि रात में किसी भी समय लगे तो उसका पुण्यकाल दूसरे दिन होता है। अत: मकर संक्रांति खिचड़ी का पवित्र पर्व '15 जनवरी दिन मंगलवार' को ही मनाया जाएगा। यह पर्व पूरे देश में विभिन्न स्वरूपों एवं परंपराओं के साथ मनाया जाएगा। गंगोत्री धाम से लेकर गंगा सागर तक सर्वत्र गंगा स्नान तथा अन्यत्र नदी, सरोवर, या उनके अभाव में अपने घर में ही निश्चित रूप से स्नान करने की पुण्य दायक परंपरा है। खिचड़ी खाने-खिलाने एवं दान देने की पुण्य फलदायक विधान है। आचार्य प्रमोद ने बताया कि इसी दिन प्रयाग कुंभ महापर्व में साधु महात्माजनों का पहला शाही स्नान होगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप