लखीमपुर : बेसिक शिक्षा में आए दिन हैरतअंगेज खुलासे हो रहे हैं। अब नया मामला देवरिया से जुड़ा पाया गया है। राज्य परियोजना कार्यालय की सूची में पाया गया कि खीरी में तैनात एक शिक्षक देवरिया में भी नौकरी कर रहा है। इससे बेसिक शिक्षा में खलबली मच गई।

बीएसए बुद्धप्रिय सिंह ने जब पूरे मामले की जांच कराई तो पता चला कि देवरिया में एक जालसाज खीरी के शिक्षक के अभिलेखों पर नौकरी कर रहा है। बीएसए ने देवरिया के बीएसए को इस संबंध में पत्र भेजा है।

बीएसए के मुताबिक, खीरी के रमियाबेहड़ ब्लॉक के दरेरी उच्च प्राथमिक विद्यालय में तैनात शिक्षक रामलखन यादव के अभिलेखों की जांच कराई गई तो वह सही पाई गई। जिसके बाद देवरिया के शिक्षक के अभिलेखों पर अधिकारियों को शक हुआ। बीएसए ने बताया कि इस संबंध में देवरिया के बीएसए को चिठ्ठी भेजी गई है। फोन पर वार्ता के दौरान यह पता चला है कि देवरिया में दो शिक्षक गायब हैं। उन्हीं दोनों के अभिलेख गड़बड़ हैं। फिलहाल यहां के शिक्षक रामलखन के अभिलेख सही पाए जाने पर अधिकारियों ने राहत की सांस ली है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021