लखीमपुर: बैलहा निवासी कमलेश कुमार (40) पुत्र बैजू लाल मंगलवार शाम को खेत में लगी उड़द की फसल की निगरानी करने गया था। तभी किसान पर एक सांड़ ने अचानक हमला बोल दिया। सांड़ के हमले से बचने के लिए किसान ने शोर मचाया लेकिन, किसी के मौजूद न होने से हमलावर सांड़ ने उसे कुचल दिया। जिससे उसकी मौत हो गई। सुबह देर तक घर न पहुंचने पर उसकी तलाश शुरू की गई और खेत जाकर देखा तो खून से लथपथ उसका शव बरामद हुआ। शव देखकर परिवारवालों ने घटना की सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने घटना स्थल पर पहुंचकर परिवारवालों सहित मौजूद लोगों के बयान दर्ज कर आवश्यक मदद की बात कही है। वहीं मौके से किसी जानवर के पैरों के निशान भी मिले हैं। परिवारजन के मुताबिक सांड़ के हमले से मौत की हुई है।

तेंदुए ने वाचर पर किया हमला, जख्मी क्षेत्र में तेंदुए की आमद की निगरानी में लगे एक वाचर पर तेंदुए ने हमला कर घायल कर दिया। जिसे साथी सुरक्षा कर्मियों के सहयोग से सरकारी अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है।

सोमवार को दक्षिण निघासन रेंज और फूलबेहड़ थाना क्षेत्र के चकलुआ गांव के मजरा गाजीपुर निवासी राधे का छह वर्षीय पुत्र संदीप रात करीब आठ बजे घर के बाहर खेल रहा था। उसका घर जंगल से करीब होने के कारण आए एक तेंदुए ने संदीप पर हमला कर जख्मी कर दिया, लोगों के शोर मचाने पर वह बच्चे को छोड़कर भाग गया था, लेकिन बुधवार शाम पुन: वापस लौटे तेंदुए ने छोटेलाल नामक वाचर पर हमला कर उसे जख्मी कर दिया। साथी सहित गांव वालों की मदद से उसे अस्पताल पहुंचाया गया है।

बाघ ने गाय को बनाया निवाला अमीरनगर क्षेत्र में गन्ने के खेत में बाघ ने हमला कर नीलगाय को मौत के घाट उतारा दिया। बाघ के पगचिन्ह के निशान भी मिले। नीलगाय का शव लगभग तीन दिन पुराना मालूम पड़ता है। बाघ के हमले की खबर सुनकर आसपास के ग्रामीण काफी दहशत में हैं।

Edited By: Jagran