पड़रियातुला/बिजुआ (लखीमपुर) : बिजुआ पुलिस चौकी के गांव रैनागंज में पुलिस ने अपने प्रभाव के चलते एक प्रेमी युगल की शादी करा दी। शादी बुद्ध बिहार पार्क में जयमाला डाल कर ग्रामीणों के सामने हुई। बिजुआ चौकी क्षेत्र के रैनागंज गांव निवासी अशोक कुमार पुत्र तिलक राम का पड़ोसी माखन की पुत्री मायादेवी से प्रेम प्रसंग चल रहा था। माया जब भी शादी की बात करती तब अशोक उसे टाल देता था। इस दौरान माया के परिवारीजनों ने उसकी शादी कहीं दूसरे जगह तय कर दी। प्रेमिका की शादी तय होते ही अशोक के होश उड़ गए। उसे लगा कि अब उसकी प्रेमिका किसी और की हो जाएगी तो उसने लड़की की शादी जहां से तय हुई थी वहां उसने फोन करके बता दिया कि वह माया से प्यार करता है और शादी भी करना चाहता है इसलिए आप लोग इस मामले में न पड़े तो अच्छा रहेगा। होने वाली बहू के बारे में ऐसी जानकारी मिलने पर लड़के वालों ने शादी तोड़ दी। इधर जब इसकी सूचना माया के परिवारीजनों को मिली तो उन पर पहाड़ टूट पड़ा। माया को भी सदमा लगा, लेकिन उसने हिम्मत हारने की बजाय अपने हक के लिए लड़ने का निश्चय किया और आज अपने प्रेमी अशोक के घर जाकर बैठ गई और इस बात पर अड़ गई कि जब तुमने हमारी शादी नही होने दी तो अब तुम खुद शादी करो नही तो यह मामला अब पुलिस के पास जाएगा। लेकिन इसके लिए न तो अशोक तैयार हुआ और न ही उसके परिवारीजन राजी हुए लेकिन माया अपने निश्चय से नही डिगी और प्रेमी के घर पर ही डटी रही। थोड़ी ही देर में मामला पूरे गांव में फैल गया। ग्रामीणों ने अशोक व उसके परिजनों को समझाया लेकिन वे मानने को तैयार ही नही हुए। इसके बाद लड़की पक्ष ने पुलिस का सहारा लिया और चौकी इंचार्ज सुनीत कुमार को मामले की सूचना दे दी। चौकी इंचार्ज ने गाँव पहुंचकर अशोक व परिवारीजनों को समझाया और यह बताया कि शादी न करने की दशा में लड़की जो तहरीर देगी उसी के अनुरुप मुकदमा कायम होगा। बस इतना सुनते ही प्रेमी व उसके परिवार वालों की अकड़ ढ़ीली पड़ गई और सब शादी के लिए राजी हो गए। दोपहर बाद दोनो की जयमाल डालकर शादी करा दी गई।

Posted By: Jagran