लखीमपुर: प्रशासन ने कस्बा और तहसील क्षेत्र सील होने व शत प्रतिशत लॉक डाउन के दावे तो किए हैं, लेकिन न ही इन निर्देशों को लोग संजीदगी से ले रहे हैं न प्रशासन नियम तोड़ने वालों को सुधार पा रहा है। कस्बा की सब्जी मंडी, बैंक शाखाओं और बीसी की बात करें या ग्रामीण क्षेत्रों में लगने वाली साप्ताहिक बाजारों की। सब जगह लॉकडाउन और शारीरिक दूरी की धज्जियां उड़ाती भीड़ देखने को मिल जाएगी। बैंक शाखाओं ने व्यवस्था बनाए रखने के लिए मेन गेट के चैनल बंद कर लिए हैं। एक बार में पांच ग्राहकों को भीतर लेकर उनके हाथ धुलवाने के बाद गार्ड उन्हें काउंटर पर भेजता है, लेकिन गेट के बाहर भीड़ बेकाबू दिखती है। किसी को शारीरिक दूरी की चिता है न कोरोना का खौफ। बैंक के भीतर पहले घुसने की होड़ में लोग धक्का मुक्की में लगे हैं। कमोबेश यही हाल बैंक करेस्पांडेंट (बीसी) के केंद्रों पर भी है। किराना की दुकानों पर तो फिर भी गनीमत है, सब्जी मंडी देखकर तो महसूस ही नहीं होता कि देश कोरोना वायरस के खौफ के चलते लॉकडाउन में जी रहा है। इस स्थिति को रोकने के लिए ड्यूटी पर तैनात पुलिस कर्मी लोगों को समझाकर हार चुके हैं या फिर ड्यूटी की खानापूरी करते दिखते हैं। कस्बा की सीमाओं को सील किए जाने के आदेश के बाद यहां से बाहर जाने वाले सभी रास्तों पर पुलिस पिकेटिग की बात सोमवार को एसडीएम सुनंदू सुधाकरन ने मीडिया से कही थी। उन्होंने तहसील क्षेत्र की सीमाओं को भी इसी तरह सील किए जाने की बात भी कही थी, लेकिन दूसरे ही दिन मंगलवार को उनके दावों की हवा उड़ती दिखाई दी।

सैनिटाइजेशन-नौ दिन चले अढ़ाई कोस

कस्बा धौरहरा में मिले जमातियों में तीन के संक्रमित पाए जाने के बाद पूरे कस्बा को सैनिटाइज करने की जिम्मेदारी नगर निकाय को दी गई थी। रविवार को एसडीएम और एसीएमओ ने अपने सामने ही कई मस्जिदों और सड़कों का सैनिटाइजेशन कराया। इसके बाद से निकाय प्रशासन ने भी खानापूरी शुरू कर दी। कहने को निकाय सैनिटाइजेशन का काम रोज कर रहा है, लेकिन उसकी रफ्तार नौ दिन चले अढ़ाई कोस वाली ही है। निकाय से जुड़े लोग बताते हैं कि मुहल्लावार रोस्टर बनाकर सैनिटाइजेशन किया जा रहा है।

जिम्मेदार की सुनिए

मंगलवार को क्षेत्र में बनाए गए क्वारंटाइन होम सीताराम मनवार कॉलेज, एलीट एकेडमी, बीआरसी खमरिया और जीआईसी धौरहरा का निरीक्षण किया गया। सभी केंद्रों पर रखे गए लोगों को समय से भोजन व सुविधाओं की समीक्षा की। लॉकडाउन का पूर्णतया पालन कराने के लिए कोतवाल धौरहरा और ईसानगर को निर्देश दिए गए हैं। क्वारंटाइन सेंटर से किसी ने भागने की कोशिश की तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी। बैंक शाखाओं पर जमा भीड़ को व्यवस्थित करने के लिए पुलिस को लगाया गया है। लोगों से लगातार शारीरिक दूरी बनाए रखने और लॉकडाउन का पालन करने की अपील की जा रही है। उल्लंघन करने वालों के खिलाफ एफआइआर दर्ज करने के निर्देश दिए गए हैं।

सुनंदू सुधाकरन, एसडीएम धौरहरा

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस