कुशीनगर: 15 से 18 आयु वर्ग के लिए सोमवार से शुरू हुआ टीकाकरण को लेकर किशोर व किशोरी खासे उत्साहित दिखे। इस अभियान में टीका लगवाने वालों को स्वास्थ्य कर्मियों ने सतर्क करते हुए कोरोना प्रोटोकाल का अनुपालन करते रहने को कहा।

नगर स्थित पुरुष एवं नेत्र चिकित्सालय के बगल स्थित महिला अस्पताल में टीका लगवाने के बाद शोभित प्रताप मल्ल ने कहा कि इससे आत्मबल मिला है। बेहतर महसूस कर रहा हूं। अक्षरा पांडेय ने कहा कि टीका लगाने के बाद आधे घंटा तक रोका गया, फिर घर आ गई। टीकाकरण स्थल पर पहुंचे रचित अग्रवाल ने बताया कि केंद्र पर तत्काल पंजीकरण हुआ और टीका लगा। आराध्या तिवारी ने कोई परेशानी नहीं हुई। पंकज दीक्षित ने कहा कि टीकाकरण हो जाने से हम लोग अब अपने को सुरक्षित महसूस कर रहे हैं। सुनील कुमार ने कहा कि सरकार का यह निर्णय सराहनीय है। टीकाकरण के बाद कोई परेशानी नहीं हुई। आदित्य मिश्र ने कहा कि वैक्सीनेशन के बाद अपने को काफी सुरक्षित महसूस कर रहा हूं। फाजिलनगर क्षेत्र के गौराखोर से आई कनक पांडेय वैक्सीनेशन के बाद काफी प्रसन्न दिखीं। कहा कि टीका लगने के बाद अंदर से सुरक्षा का भाव जगा है। टीकाकरण अभियान में सभी की सहभागिता जरूरी: डीएम

जिलाधिकारी एस राजलिगम ने कहा कि तीन जनवरी से शुरू हुए टीकाकरण अभियान में सभी की सहभागिता होनी चाहिए। टीकाकरण स्वैच्छिक एवं निश्शुल्क है। यह केवल रजिस्टर्ड लाभार्थी को ही लगाया जाएगा। किसी भी लाभार्थी का टीका किसी अन्य व्यक्ति को नहीं लगेगा। टीकाकरण पूर्णतया सुरक्षित है, किसी प्रकार का कोई दुष्प्रभाव नहीं है। यदि कहीं से अफवाह फैलाई जाती है तो उस पर ध्यान न दें।

Edited By: Jagran