कुशीनगर: कोतवाली पुलिस व स्वाट की संयुक्त टीम ने लूट की घटना का पर्दाफाश कर तीन लुटेरों को सोमवार की रात में गिरफ्तार किया। लुटेरों के पास से पिस्टल, तमंचा व कारतूस बरामद हुआ।

सीओ कसया पीयूषकांत राय ने कोतवाली परिसर में पत्रकारों को बताया कि एसएसआइ अखिलेश यादव टीम के साथ रात करीब साढ़े आठ बजे गश्त पर थे। इस बीच नगर से सटे देवरिया-महुआडीह मोड़ पर बाइक सवार तीन युवक पहुंचे। पुलिस ने रुकने का इशारा किया तो उन्होंने बाइक की गति तेज कर दी। पीछा कर पुलिस टीम ने तीनों को पकड़ लिया। उनकी पहचान जाहिद अंसारी निवासी शाहपुर बेलवा, थाना रामपुर कारखाना देवरिया, शक्ति यादव निवासी धनौजी कला थाना कोतवाली देवरिया व शमीम शेख उर्फ गजनी निवासी इजरही माफी थाना महुआडीह मोहल्ला अलीनगर थाना कोतवाली जिला देवरिया के रूप में हुई। सीओ ने बताया कि तीनों शातिर बदमाश हैं। देवरिया व कुशीनगर के विभिन्न थानों में उनके खिलाफ आधा दर्जन संगीन धाराओं में मुकदमे दर्ज हैं। तीनों ने सात जून 2021 को पटना मिश्रौली गांव के समीप देवरिया मार्ग पर कोतवाली क्षेत्र के ही गांव भूड़ीपाकड़ निवासी दिलीप वर्मा की मोबाइल व बाइक लूटी थी। उनके पास से पिस्टल, तमंचा व कारतूस बरामद हुआ। पुलिस टीम में दारोगा अमित शर्मा, मुबारक अली खां, बृजेश यादव, गौरव वर्मा, हेड कांस्टेबल राजनारायन यादव, कांस्टेबल सुनील यादव, सुजीत यादव, सत्यम पटेल, सचिन कुमार, राघवेंद्र सिंह, रणजीत यादव, चंद्रशेखर यादव, संदीप भास्कर, अभिषेक यादव शामिल रहे।

मनरेगा से बन रही नाली, जेसीबी से हो रही खोदाई

ब्लाक परिसर में मनरेगा के तहत नाली निर्माण कार्य में मजदूरों को दरकिनार कर जेसीबी से खोदाई कराई जा रही है। जिम्मेदार इसके लिए एक-दूसरे की गलती बताकर अपना पल्ला झाड़ रहे हैं।

कुछ लोगों ने बीडीओ ऊषा पाल से मंगलवार को जब इसकी शिकायत की तो प्रकरण सुर्खियों में आ गया। बीडीओ ने कार्यदायी संस्था को आनन-फानन नोटिस जारी कर स्पष्टीकरण मांगा है। मनरेगा एपीओ संदीप पटेल से ने इस पर कुछ भी कहने से इन्कार कर दिया। खंड विकास अधिकारी ने बताया कि मनरेगा मजदूरों की जगह जेसीबी से खोदाई कार्य कराए जाने की जानकारी मिली है। संस्था को नोटिस जारी कर जवाब मांगा गया है। प्रकरण की जांच करा जिम्मेदारों के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Jagran