कुशीनगर: बच्चों में स्वाध्याय के विकास के लिए गुरुवार को पढ़े कुशीनगर, बढ़े कुशीनगर अभियान का अभिनव प्रयोग हुआ। सुबह 11 बजे से 11.45 बजे तक 10 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के परिषदीय, माध्यमिक व महाविद्यालय स्तर तक के 2.37 लाख बच्चों ने सार्वजनिक स्थल पर अपने रुचि की पुस्तकें पढ़ी।

45 मिनट तक संचालित इस अभियान में बच्चे सर्किल, लंबी कतार तो कहीं भारत के आकृति में खुले आसमान तले पढ़ाई की। बच्चों में पुस्तकों से लगाव व स्वाध्याय को बढ़ावा देने के लिए लखनऊ में इस अनूठे प्रयोग की सफलता के बाद जनपद में यह प्रयोग सफल माना जा रहा है। नगर के हनुमान इंटर कालेज में प्रधानाचार्य शैलेंद्र दत्त शुक्ल, उदित नारायण इंटर कालेज में जगमोहन तिवारी, गोस्वामी तुलसी दास इंटर कालेज में चंद्रशेखर तिवारी, राजकीय कन्या इंटर कालेज में प्रधानाचार्य डा. गीता यादव, भारतीय इंटर कालेज में नवेंदू भूषण कुशवाहा के नेतृत्व में आयोजन हुआ। सिगहा संवाददाता के अनुसार नौरंगिया स्थित राजेश मणि इंटर कालेज में प्रधानाचार्य प्रवीण कुमार दूबे के नेतृत्व में बच्चों के साथ शिक्षकों ने भी अपना पसंदीदा पुस्तक पढ़ा। दुर्गा गुप्ता, नीलू गुप्ता, अभय जायसवाल, संजय गुप्त, दीपिका सिंह, प्रज्ञा द्विवेदी आदि मौजूद रहे। सुकरौली संवाददाता के अनुसार नेहरू इंटर कालेज सेमरी सुकरौली में प्रधानाचार्य डा. अरूण प्रताप सिंह ने कहा कि जीवन में आगे बढ़ने के लिए कठिन परिश्रम जरूरी है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस