कुशीनगर: रेल सुरक्षा बल कप्तानगंज पोस्ट द्वारा बुधवार को ट्रेन में चे¨कग के दौरान दो नाबालिगों को पकड़ लिया गया। उन्हें सामुदायिक कल्याण एवं विकास संस्थान कुशीनगर को सुपुर्द कर दिया गया। दोनों बच्चे अपने-अपने घरों से विभिन्न कारणों से क्षुब्ध होकर भागे थे। प्रभारी निरीक्षक सचिन ठाकुर के निर्देश पर कांस्टेबल रामनरेश यादव व श्यामबदन को कप्तानगंज रेलवे स्टेशन पर खड़ी ट्रेन 75011 में तलाशी के दौरान संदिग्ध हालात में दो नाबालिक दिखे। पूछताछ में एक ने अपना नाम विशाल पुत्र गाम्हा निषाद 10 वर्ष निवासी वार्ड नंबर तीन राजपुर बगहां थाना सेवरही व दूसरे ने साहिल पुत्र क्यामुद्दीन 12 वर्ष निवासी सरिसवां थाना तुर्कपट्टी बताया। विशाल द्वारा बताया कि मां ने स्कूल नहीं जाने पर पीटा था, इसलिए घर से भाग कर ट्रेन में चढ़ गया। साहिल ने कहा कि वह भटक कर ट्रेन से कप्तानगंज आ गया था। उनके द्वारा बताए गए पते पर परिजनों से संपर्क नहीं हो पाया। आरपीएफ प्रभारी ठाकुर ने चाइल्ड लाइन 1098 पर काल किया। उसके बाद सामुदायिक कल्याण एवं विकास संस्थान को सुपुर्द कर दिया। संस्थान द्वारा चाइल्ड वेलफेयर कमेटी की सुपुर्दगी में दोनों नाबालिगों को सौंपा जाएगा।

----

Posted By: Jagran