कुशीनगर : पशु तस्करी समेत अन्य संगीन मामलों में फरार वांछितों की तलाश में एएसपी एपी सिंह के नेतृत्व में कोतवाली पुलिस ने बुधवार को बसहिया में छापेमारी की। इस दौरान हिरासत में लिए गए तीन संदिग्धों से कड़ी पूछताछ की गई।

पुलिस टीम शाम को चार बजे बसहिया गांव में पहुंची। पशु तस्करी के मामले में वांछित अफरोज, असलम सहित आधा दर्जन वांछितों के घर की सघन तलाशी ली। हालांकि आरोपित नहीं मिले। पुलिस टीम ने पशु काटने की आशंका में एक दर्जन दूसरे घरों में भी छापेमारी की। मौके पर कुछ नहीं मिला। गांव के फिरोज, परवेज सहित तीन संदिग्धों को हिरासत में लेकर पुलिस कोतवाली ले गई। पुलिस टीम ने गांव में पैदल मार्च किया। एएसपी ने कहा कि फरार वांछितों की तलाश में छापेमारी की गई। पशु तस्करी व पशुओं के काटने पर हर हाल में रोक लगाना पुलिस की प्राथमिकता है। इस धंधे में लगे लोगों के विरुद्ध गैंगस्टर के तहत कार्रवाई होगी। एसएसआइ अमित कुमार राय, दारोगा आलोक यादव सहित बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी मौजूद रहे।

ग्रामीणों ने दो संदिग्ध बाइक सवारों को पुलिस को सौंपा

बुधवार की रात आठ बजे तरयासुजान थाना के गांव माधोपुर बुर्जुग पूरब टोला के सामने बड़ी गंडक नहर पर गांव के कुछ युवक पहरे में लगे थे। दक्षिण दिशा से एक बाइक पर तीन युवक आ रहे थे। युवकों ने रोका तो भागने लगे, लेकिन पकड़ में आ गए। एक मोटरसाइकिल से कूदकर भाग गया। पकड़े गए संदिग्ध युवकों को बाइक सहित दोनों को पुलिस को सौंप दिया। एसएचओ कपिलदेव चौधरी ने बताया कि जांच की जा रही है। प्रथम²ष्टया अपराधी नहीं हैं, फिर भी उन्हें हिरासत में लिया गया है।

Edited By: Jagran