कुशीनगर: परिषदीय स्कूलों में शैक्षिक व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए एकेडमिक रिसोर्स पर्सन, एआरपी की तैनाती में कुशीनगर के शिक्षकों ने रूचि नहीं ली है। यही कारण है कि जिले में निर्धारित पदों के सापेक्ष कम आवेदन प्राप्त हुए हैं। बेसिक शिक्षा विभाग का कहना है कि चयन प्रक्रिया पूरी होने के बाद शेष रह गए पदों के लिए फिर से आवेदन मांगे जाएंगे। एबीआरसी व एनपीआरसी पद समाप्त होने के बाद विभाग में एआरपी की तैनाती होनी है। इसमें प्रत्येक ब्लाक में हिदी, गणित, विज्ञान, सामाजिक अध्ययन व अंग्रेजी विषय के एक-एक एकेडमिक रिसोर्स पर्सन, एआरपी तैनात होंगे। जो प्राथमिक व उच्च प्राथमिक स्कूलों का निरीक्षण कर प्रेरणा एप के माध्यम से संबंधित विषय के पठन-पाठन में आने वाली कमियों को दूर कर स्कूलों में पठन-पाठन का बेहतर माहौल बनाने का कार्य करेंगे। एआरपी का चयन मेरिट के आधार पर होगा। इसके लिए आवेदकों को परीक्षा पास करना होगा।

एकेडमिक रिसोर्स पर्सन, एआरपी, पद के लिए कुशीनगर में 70 पद सृजित हैं। इसके सापेक्ष यहां सिर्फ 47 आवेदन ही प्राप्त हुए हैं। चयन के लिए सोमवार को जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान में परीक्षा का आयोजन किया गया है। विभाग के अनुसार दोपहर एक बजे से शुरू परीक्षा दोपहर तीन बजे तक दो घंटे चलेगी।

बीएसए विमलेश कुमार ने कहा कि एआरपी के निर्धारित पदों के सापेक्ष कम आवेदन प्राप्त हुए हैं। महानिदेशक स्कूली शिक्षा के निर्देश क्रम में शेष पदों के लिए फिर से आवेदन मांगे जाएंगे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021