कुशीनगर : पडरौना सदर कोतवाली क्षेत्र के बंगाली पट्टी गांव के समीप बुधवार सुबह गंडक नहर में शव मिलने से सनसनी फैल गई। गांव के लोगों की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। गोताखोर की मदद से शव को निकलवाया। शिनाख्त नहीं हो पाई।

गांव के कुछ मजदूर सुबह खेत की निराई करने गए थे। लगभग नौ बजे घर लौटते समय गंडक नहर में शव देखा। चौकीदार ने इसकी सूचना पुलिस को दी। शव लगभग 50 वर्षीय अधेड़ का है। शरीर पर सफेद रंग का कुर्ता पायजमा था। कोतवाल अनुज कुमार सिंह ने कहा कि शरीर पर जख्म आदि के निशान नहीं मिले हैं। शिनाख्त का प्रयास किया जा रहा है।

नदी में डूबी किशोरी की तीसरे दिन भी हुई तलाश

बीते सोमवार को तरयासुजान थाना के घघवा जगदीश गांव के समीप स्थित एपी बांध के किनारे नारायणी नदी में डूबी किशोरी की तलाश बुधवार को भी गोताखोरों ने की। क्षेत्र के परसा गांव निवासी 15 वर्षीय समीना का पैर फिसल जाने से नदी की तेज धारा में बह गई। एसडीआरएफ की टीम उसकी तलाश में जुटी रही। प्रभारी निरीक्षक कपिलदेव चौधरी ने बताया कि अबतक किशोरी का पता नहीं लगा है।

36 घंटे बाद भी स्कूल प्रबंधक का सुराग नहीं

बरवा पट्टी थाना के दशहवा में एक विद्यालय के संचालक व विशुनपुरा थाना के गौरीश्रीराम गांव के सिरजम टोला निवासी कृष्ण कुमार राय तीन दिन पूर्व अपने फेसबुक व वाट्सएप पर सुसाइड नोट लिखने के बाद लापता हो गए। स्वजन ने पुलिस को तहरीर सौंपी। घटना के 36 घंटे बाद भी सुराग न मिलने से स्वजन अनहोनी की आशंका से परेशान हैं। एसएचओ सुरेशचन्द्र राव ने बताया कि पुलिस तलाश में जुटी है।

Edited By: Jagran