कुशीनगर: गोरखपुर से नरकटियागंज जाने वाली रेलखंड के बिहार के पश्चिमी चंपारण जिले के भैरोगंज व हरिनगर रेलवे स्टेशनों के बीच बुधवार की सुबह पांच बजे मसान नदी के किनारे इलेक्ट्रिक पोल गिरने से इस रूट पर ट्रेनों का आवागमन बाधित हो गया है, तो कई ट्रेनों को रास्ते से ही दूसरे रूटों से गंतव्य को रवाना किया गया। कई ट्रेने मार्ग बदल कर चलाई जा रही है। इलेक्ट्रिक पोल का कुछ हिस्सा नदी में होने की वजह से रेल प्रशासन को मरम्मत कार्य में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। गाड़ी संख्या 12558 सप्तक्रांति सुपरफास्ट एक्सप्रेस को बगहा, 55074 को बाल्मीकिनगर, 55042 खड्डा, हमसफर सुपरफास्ट एक्सप्रेस पनियहवा स्टेशन पर खड़ी रही। मुख्य यातायात निरीक्षक संजय द्विवेदी ने हमसफर एक्सप्रेस को कप्तानगंज-थावे रूट से चलाने की तैयारी की और जैसे ही इंजन को जोड़ने का प्रयास किया गया, तो यात्री आक्रोशित हो गए। इसके कारण रूट नहीं बदला जा सका। स्टेशन अधीक्षक मनोज कुमार की सूचना पर जीआरपी पडरौना के चौकी इंचार्ज उपेंद्र श्रीवास्तव, खड्डा के एसएचओ रामाशीष यादव व हनुमानगंज के एसओ महेंद्र चतुर्वेदी मयफोर्स व आरपीएफ के जवान मौके पर पहुंच यात्रियों को शांत कराया। दोपहर 12.20 बजे पनियहवा से टावर वैगन को गिरे हुए इलेक्ट्रिक पोल के मरम्मत के लिए रवाना किया गया। इसके एक घंटे दस मिनट बाद दोपहर 1.30 बजे सुपर फास्ट हमसफर संख्या 15706 को बाल्मीकि नगर के लिए रवाना किया गया। सवारी गाड़ी 55042 को खड्डा से गोरखपुर, सवारी गाड़ी 55074 को बाल्मीकि नगर से गोरखपुर वापस भेज दिया गया। गाड़ी संख्या 15273 व 11574 सत्याग्रह एक्सप्रेस का रूट बदलकर चलाया जा रहा है। अभी तक पोल रेलवे ट्रैक से हटाया नहीं जा सका है। इसकी वजह से गोरखपुर से नरकटियागंज पर 12 घंटे बाद भी आवागमन चालू नहीं हो सका है। समाचार लिखे जाने तक पोल को ट्रैक से पोल नहीं हट सका था। दूसरी ओर हमसफर सुपर फास्ट के चालक आशनरायन सिंह ने बताया कि सुबह 6.45 बजे से ट्रेन पनियहवां स्टेशन पर खड़ी है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप