कुशीनगर: जिले के विभिन्न विद्यालयों में बुधवार को स्वामी विवेकानंद की जयंती राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में मनाई गई। छात्र-छात्राओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया। वक्ताओं ने स्वामी विवेकानंद के जीवन पर प्रकाश डाला। कहा कि देश के युवाओं को विवेकानंद के आदर्शों से सीख लेनी चाहिए।

नगर के समीप जंगल बेलवा की मुसहर टोली में संचालित विवेकानंद विद्यालय में विवेकानंद की जयंती पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। मुख्य अतिथि उदित नारायण पीजी कालेज की प्राचार्य डा. ममता मणि त्रिपाठी ने कहा कि हम सभी राष्ट्रीय युवा दिवस मना रहे हैं। युवा का मतलब होता है ऊर्जावान, क्षमतावान, विश्वास पात्र युवा। यूथ आइकान स्वामी विवेकानंद ने कहा था युवा एक दिन पूजा भले ही न करें, लेकिन फुटबाल जरूर खेलें। इससे स्वस्थ भारत का निर्माण होगा। विशिष्ट अतिथि ब्रह्माकुमारी मीरा ने कहा कि विवेकानंद का सपना था कि भारत विश्व गुरु बने। कुबेरस्थान थानाध्यक्ष डा. आशुतोष तिवारी, भाजपा के क्षेत्रीय मीडिया प्रभारी डा. बच्चा पांडेय नवीन, सूर्यप्रकाश राय, नरेंद्र त्रिपाठी, जेपी जायसवाल, मनोज शाह, प्रधानाचार्य डा. सुनीता पांडेय, अवधेश सिंह आदि ने भी संबोधित किया। आयोजक यूएनपीजी कालेज के पूर्व विभागाध्यक्ष डा. सीबी सिंह ने आभार प्रकट किया। दीप नारायण अग्रवाल, विजय दीक्षित, अनिल चौधरी, नंदकिशोर, अजय शर्मा आदि मौजूद रहे।

हनुमान इंटर कालेज पडरौना में राष्ट्रीय सेवा योजना के तत्वावधान में विवेकानंद की जयंती मनाई गई। प्रबंधक मनोज शर्मा शारस्वत ने स्वामी विवेकानंद के चित्र पर माल्यार्पण किया। प्रधानाचार्य शैलेंद्र दत्त शुक्ल ने विवेकानंद के जीवन पर प्रकाश डाला। संचालन एनएसएस के कार्यक्रम अधिकारी उषेश पांडेय ने किया। उमेश चंद, जयराम सिंह, परवेज आलम आदि मौजूद रहे।

किसान इंटर कालेज में राष्ट्रीय सेवा योजना के तत्वावधान में स्वामी विवेकानंद की जयंती मनाई गई। छात्र-छात्राओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया। शिक्षक हरींद्र कुशवाहा, धनंजय कुमार, संजय गौतम, विष्णु प्रताप चौबे, राघवशरण मिश्र, सतीश कुशवाहा ने स्वामी विवेकानंद के विचारों को आत्मसात करने की प्रेरणा दी। सुनील पांडेय ने गीत के माध्यम से स्वामी विवेकानंद के जीवन का बखान किया। अध्यक्षता प्रधानाचार्य अश्विनी कुमार पांडेय ने की व संचालन भूपेंद्र कुमार पांडेय ने किया।

Edited By: Jagran