कुशीनगर: आधार से लिक होने के बाद भी अंगूठा मिस मैच होने के कारण खाद्यान्न मिलने में दिक्कतों का सामना करने वाले कार्डधारकों के लिए राहत भरी खबर है। अंगूठा लगाने के बाद पर्ची नहीं निकलती है, तो कोटेदार ऐसे कार्डधारकों का आई स्कैनर से आंखों की रैटिना का मिलान कर लाभार्थियों को खाद्यान्न उपलब्ध कराएंगे। इसके लिए विभाग ने 1479 कोटेदारों में मशीन वितरित किया है। इसमें ग्रामीण 1411 व नगरीय क्षेत्र की 68 कोटे की दुकानें शामिल हैं। इसका प्रयोग इसी महीने से चालू करने का निर्देश दिया गया है।

----

अभी मिस मैच में फंसे चार लाख यूनिट

-आधार से फीडिग के बाद मिस मैच चार लाख यूनिट को दुरुस्त कराने में विभाग जुटा हुआ है। हिन्दी व अंग्रेजी वर्णमाला की गड़बड़ी से राशन कार्ड व आधार के नाम में अंतर आने से लाभार्थी फंसे हुए हैं। 30 अप्रैल तक विभाग द्वारा आधार के अनुसार राशन कार्ड व यूनिट ठीक कराने की तैयारी की गई है। जनपद में कुल सात लाख 35 हजार चार सौ 56 कार्डधारक हैं, जिसमें एक लाख 17 हजार एक सौ 60 कार्ड अंत्योदय के हैं। कार्डों की कुल यूनिट 27 लाख 38 हजार छह सौ 56 है।

---

आधार सीडिग में तेजी लाने का निर्देश : डीएसओ

-जिला पूर्ति अधिकारी विमल कुमार शुक्ल ने कहा कि यह गड़बड़ी आधार बनाने वाले सहज जनसेवा केंद्र व राशन कार्ड की आनलाइन फीडिग में हिन्दी व अंग्रेजी वर्णमाला गलत भरने से हुई है। कार्डधारकों को चाहिए कि वे अपने पूरे परिवार आधार जमा करा कमियों को दुरुस्त करा लें, ताकि उन्हें कोई परेशानी न हो। बताया कि खड्डा, कप्तानगंज, हाटा, मोतीचक, सेवरही, रामकोला, दुदही, नेबुआ नौरंगिया, फाजिलनगर, कसया आदि ब्लाकों में आधार सीडिग में तेजी लाने का निर्देश दिया गया है। इसके लिए 30 अप्रैल तक समय सीमा निर्धारित है।

Posted By: Jagran