कुशीनगर: गोंड सेवा समिति और भारतीय गोंडवाना पार्टी के तत्वावधान में सोमवार को बुद्ध इंटर कालेज कुशीनगर के स्टेडियम में सामूहिक विवाह का आयोजन किया गया। इसमें विभिन्न जातियों के 35 जोड़े एक दूजे के हुए। इसमें गोंड संस्कृति से 24, ¨हदू से सात और बौद्ध संस्कृति से चार शादियां हुईं। गोंड समाज के धर्माचार्य शिवशंकर धुर्वे, ¨हदू के कमलेश पांडेय और बौद्ध के भंते शिवम ने अपने-अपने रीति-रिवाज से विवाह कराया। आयोजन समिति के अध्यक्ष डॉ. गणेश गोंड ने कहा कि शादी कराना पुण्य का कार्य है। अगले वर्ष पुन: यहां और मिर्जापुर में सामूहिक शादी का आयोजन किया जाएगा। उच्च शिक्षा में प्राध्यापक रामसागर की शादी सीए लड़की कोमल से हुई। इन्होंने आयोजन की सराहना करते हुए प्रत्येक वर्ष आने का वादा किया। बलिया से आए कलाकारों ने हुरका नृत्य प्रस्तुत किया तो महिलाओं ने मंगल गीत गाए। इस अवसर पर प्रीतम नाथ गोंड, महेंद्र गोंड, मोहन गोंड, गोरख गोंड, सुशील गोंड, शिवम, संजीव,रीना गोंड, नर¨सह गोंड, आरपी गोंड, अर¨वद गोंड, वीरेंद्र गोंड, राकेश गोंड, अक्षयबर गोंड, दिग्विजय गोंड आदि उपस्थित रहे।

----

ये हुए एक दूजे के

कुशीनगर: रामसागर संग कोमल, पूजा संग सुनील, राधिका संग आशीष, महिमा संग उमेश, नंदिनी संग अजय, सोनी संग दिनेश, अंजनी संग उमेश, गुंजा संग गुड्डू, अंबिका संग रामप्रताप, शीला संग कृष्णकुमार सहित 35 जोड़े एक संग हुए।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप