कुशीनगर: विधायक जटाशंकर त्रिपाठी की पहल पर सोमवार की रात से प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र खड्डा में आठ वर्ष बाद इमरजेंसी सेवा शुरू करा दी गई है। पीएचसी की इमरजेंसी सेवा बंद होने से लोगों को कस्बा से तीन किमी दूर रेलवे क्रॉसिग पार कर तुर्कहां सीएचसी में जाना पड़ता था। कभी-कभी रेलवे क्रॉसिग बंद होने की वजह से अस्पताल पहुंचने के पहले ही मरीज दम तोड़ देते थे।

यहां के लोग पीएचसी में इमरजेंसी सेवा शुरू कराने की मांग लगातार कर रहे थे। अब पीएचसी में रात में कम से कम एक डॉक्टर की तैनाती रहेगी। सीएचसी की रात्रिकालीन सेवा पूर्ववत जारी रहेगी। प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ. प्रभु ने कहा कि अभी सीएचसी के डॉक्टर के सहयोग से पीएचसी में रात्रिकालीन सेवा शुरू की गई है। पीएचसी के लिए कम से कम दो और डॉक्टर की जरूरत है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस