कुशीनगर: कसया थाने के गांव सिसवां महंथ निवासी विवाहिता की संदिग्ध मौत के मामले में पुलिस ने ससुराल पक्ष के सात लोगों के विरुद्ध दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज कर पति को गिरफ्तार कर लिया है।

मंगलवार की रात 24 वर्षीय आशा का शव बंद कमरे में फंदे से लटका मिला था। मृतका के पिता हाटा कोतवाली के गांव अवरवा निवासी रामधारी सिंह की तहरीर पर पुलिस ने पति मस्तराज सिंह, ससुर सुरेंद्र सिंह, सास लक्ष्मीना, ननद अर्चना, जेआंनद व आलोक एवं शादी कराने वाले अगुवा सहित सात के विरुद्ध हत्या का मुकदमा दर्ज किया है। प्रभारी निरीक्षक रामअशीष यादव ने बताया कि मुख्य आरोपित पति को जेल भेज दिया गया है।

दहेज हत्या के मामले में फरार चल रहे आरोपित को पटहेरवा पुलिस ने बघौचघाट तिराहे से गिरफ्तार कर लिया। गांव परसौनी निवासी संपति (32) की छह माह पूर्व संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। मृतका के पिता की तहरीर पर पुलिस ने पति अनिल सहित आधा दर्जन ससुरालियों के विरुद्ध दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज किया था। प्रभारी निरीक्षक मृत्युंजय सिंह ने बताया कि मुख्य आरोपित अनिल को गिरफ्तार कर अदालत ले जाया गया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया।

सदर कोतवाली क्षेत्र के एक गांव की युवती ने पुलिस महानिरीक्षक को प्रार्थना पत्र भेजकर एक युवक पर शादी का झांसा देकर दो वर्षों तक शारीरिक शोषण करने और अब शादी से इंकार करने का आरोप लगाया है। उसने इस मामले में कार्रवाई की मांग की है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस