कुशीनगर : शासन की ओर सार्वजनिक वितरण प्रणाली को पारदर्शी बनाने के लिए नए-नए उपाय किए जा रहे हैं। बावजूद कहीं न कहीं गड़बड़ी अभी शेष रह जा रही। विभाग अब राशनकार्ड की डुप्लीकेसी रोकने के लिए कमर कस रहा है। ब्लॉक के गांवों की सूची जारी कर संबंधित कोटेदारों व उपभोक्ताओं को निर्देशित किया गया है कि भारतीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत एक ही नाम की यूनिट से दो जगहों से खाद्यान्न लेना अपराध है। कानूनन संबंधित के खिलाफ कार्रवाई एवं उठान किए गए खाद्यान्न की रिकवरी कराने का प्रॉविधान भी है। रामकोला विकास खंड के 58 ग्राम पंचायतों में संचालित 88 राशन की दुकानों के राशनकार्डों में लगभग पांच सौ यूनिट की डुप्लीकेसी जांच में सामने आई है। प्रत्येक ग्राम पंचायत में औसत चार से पांच यूनिट की डुप्लीकेसी है। किसी राशनकार्ड में मुखिया के रूप में तो किसी में सदस्य के रूप में यूनिट अंकित है। ऐसे लोग दो जगहों से राशन का उठान कर रहे हैं। पूर्ति निरीक्षक कप्तानगंज दुर्गा दत्त ने कहा कि दो जगहों से राशन का उठान जुर्म है। ऐसे उपभोक्ताओं से रिकवरी की जाएगी। कहा कि ऐसे उपभोक्ता शीघ्र अपने राशनकार्ड की यूनिट सरेंडर कर दें।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस