कुशीनगर : सदर तहसील के गांव जंगल खिरकिया के टोला नई बस्ती में एक व्यक्ति ने ग्राम सभा व सड़क के नाम पर दर्ज भूमि पर कब्जा कर लिया है। इसे लेकर ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त है। ग्रामीणों ने शनिवार को एसडीएम सदर महात्मा सिंह को पत्रक सौंप चेताया कि शीघ्र कब्जा नहीं हटा तो तहसील का घेराव कर धरना-प्रदर्शन होगा।

पत्रक में कहा गया है कि कब्जे वाली भूमि पर गांव के दो लोग दावा पेश कर रहे थे। ग्राम प्रधान प्रतिनिधि नागेन्द्र यादव ने सदर एसडीएम से मिलकर इस भूमि की पैमाइश की सिफारिश की थी। एसडीएम ने नायब तहसीलदार को निर्देशित किया। एक सप्ताह पूर्व कानूनगो व लेखपाल पुलिस की मौजूदगी में भूमि की पैमाइश किए। इसमें यह बात सामने आई कि अवैध रूप से दीवार चलाकर उस पर कटरैन रखकर कब्जा किया गया है। कब्जा हटाने के लिए दो दिन का मौका दिया गया, लेकिन एक सप्ताह बाद भी कब्जा बरकरार है।

ग्राम प्रधान प्रतिनिधि नागेन्द्र यादव, बीडीसी सदस्य नागेन्द्र निषाद, बीडीसी सदस्य शमशुद्दीन अंसारी, ग्राम पंचायत सदस्य हीरा गुप्ता, जाकिर अंसारी, जवाहर कुशवाहा, उम्मत अंसारी, बिग्गू प्रसाद, तुलसी प्रसाद, मैनेजर प्रसाद व ग्रामीण रमाशंकर निषाद, श्रीनिवास चौधरी, सुरेंद्र शर्मा, उपेंद्र मिश्र, सहादत अंसारी आदि ने तहसील व पुलिस प्रशासन से तुरंत कब्जा हटवाने की मांग की है।

मार्ग बंद होने की बात सुन लामबंद हुए ग्रामीण

कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट के टर्मिनल मार्ग निर्माण को लेकर प्रशासन द्वारा नकहनी गांव में हेतिमपुर मार्ग बंद कराने की बात सामने आने पर शनिवार को सैकड़ों ग्रामीण लामबंद हो गए। मौके पर विधायक रजनीकांत मणि त्रिपाठी व सपा नेता पूर्व मंत्री राधेश्याम सिंह भी पहुंच गए। दोनों नेताओं ने प्रशासन से अलग-अलग वार्ता की। प्रशासन ने मार्ग बंद नहीं करने की बात कही तो मामला शांत हुआ।

गोबरही-हेतिमपुर मार्ग वर्तमान में एयरपोर्ट बाउंड्रीवाल के अंदर से चल रहा है। इस बीच एयरपोर्ट अथारिटी आफ इंडिया से 33 करोड़ रुपये का बजट जारी होने के बाद टर्मिनल को जोड़ने वाले फोरलेन मार्ग का निर्माण भी शुरू हो गया है। इसे देखते हुए प्रशासन की गोबरही-हेतिमपुर मार्ग बाउंड्रीवाल के अंदर से बंद कराकर बाहर की तरफ से ले जाने की योजना है। कहीं से यह बात उठी कि प्रशासन आज इस मार्ग को बंद कराएगा। ग्राम प्रधान प्रवीण पांडेय, सतवंत यादव, महंथ राव, सुनील तिवारी, चंद्रबलि यादव, अमित कुमार, प्रभुनाथ, रमाकांत आदि का कहना था कि मार्ग बंद होने से राहगीर और खास कर गांव के लोगों को काफी कठिनाई का सामना करना पड़ेगा। बिना दूसरा मार्ग बनाए यदि मार्ग बंद किया गया तो इसका विरोध किया जाएगा। विधायक रजनीकांत मणि त्रिपाठी का कहना था कि जनता के हितों की हिफाजत की जाएगी। एसडीएम वरुण कुमार पांडेय ने बताया कि नकहनी गांव में रास्ता बंद करने की तत्काल कोई योजना नहीं है। जनता की सुविधाओं को ध्यान में रखकर ही कोई कदम उठाया जाएगा।

Edited By: Jagran