कुशीनगर:तरयासुजान थाना क्षेत्र के गांव टड़वा के समीप फोरलेन पर रविवार रात तीन पिकअप से 14 गोवंश बरामद कर पुलिस ने चार तस्करों को गिरफ्तार किया। मुकदमा पंजीकृत कर सोमवार को तस्करों को न्यायालय ले गई, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया। तस्कर पशुओं की खेप बिहार ले जा रहे थे।

बहादुरपुर चौकी इंचार्ज रात करीब आठ बजे गश्त पर थे। तभी सूचना मिली कि तस्कर पशुओं की खेप लेकर बिहार की तरफ जा रहे हैं। टीम ने टड़वा के समीप वाहनों की जांच पड़ताल शुरू कर दी। इस बीच आगे-पीछे एक साथ आए तीन पिकअप को देख पुलिस ने रुकने का इशारा किया। तलाशी के दौरान तीनों पिकअप से 14 गोवंश मिले। पुलिस ने मौके से चार तस्करों को भी दबोच लिया। पूछताछ में उनकी पहचान धनंजय जायसवाल व मुकुल कुशवाहा निवासी जवहीं नरेंद्र थाना तरयासुजान, अजीत निवासी दनियाड़ी थाना तरयासुजान तथा अफर अंसारी निवासी खैरटिया थाना तरयासुजान के रूप में हुई। पुलिस टीम में चौकी इंचार्ज धनंजय राय, हेकां. बिजली सिंह, कां.रितेश यादव, वीरेंद्र सिंह, संदीप यादव, बिलास यादव, गोपानाथ शामिल रहे।

पीआरडी जवानों का ईंट उखाड़ते वीडियो वायरल

कुशीनगर में रामाभार स्तूप के समीप बने हेलीपैड की ईंट उखाड़ते पीआरडी जवानों का वीडियो वायरल हुआ है। यातायात सुरक्षा की ड्यूटी में लगे इन जवानों को मजदूरों की तरह ईंट उखाड़ने की जिम्मेदारी किसने दी, इस सवाल के जवाब में जिम्मेदार श्रमदान बता रहे हैं। मामला जो भी हो वायरल वीडियो व्यवस्था पर सवाल खड़े कर रहा है।

कुशीनगर के अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट का उद्घाटन करने बीते वर्ष 20 अक्टूबर को पीएम नरेन्द्र मोदी आए थे। रामाभार स्तूप व बरवा फार्म में हेलीपैड बना था। इसमें लाखों ईंट का प्रयोग किया गया था। सोमवार को पीआरडी जवानों द्वारा हेलीपैड की ईंट उखाड़ने का वीडियो और तस्वीर इंटरनेट मीडिया पर वायरल हुई। जवान वर्दी में ही ईंट उखाड़ कर इकट्ठा कर रहे हैं। पूछने पर उन्होंने बताया कि उन्हें विभागीय अधिकारी ने यह कार्य सौंपा है। टीएसआइ सत्य शान्याल शर्मा ने बताया कि यातायात सुरक्षा में तैनात पीआरडी के जवान स्वेच्छा से श्रमदान कर रहे हैं। यातायात पुलिस के प्रभारी सीओ सदर कुंदन सिंह ने बताया कि हेलीपैड की ईंट पुलिस लाइन लाई जा रही है। यहां कुछ कार्य कराना है। जवानों को रखवाली के लिए तैनात किया गया था। वह स्वत: ही ईंट उखाड़ रहे हैं।

Edited By: Jagran