कौशांबी (जेएनएन)। तिल्हापुर गांव में पति से नाराज महिला ने दो बेटियों के साथ खुद को बक्से में बंदकर आत्मदाह कर लिया। पुलिस ने पति समेत चार लोगों पर दहेज हत्या का मुकदमा लिखा है।

बरई बंधवा गांव निवासी खिन्नीलाल ने बेटी अमरावती की शादी वर्ष 2013 में तिल्हापुर निवासी राजू के साथ की थी। आरोप है कि राजू शराब और जुए का लती है। इसके चलते पति-पत्नी में अक्सर झगड़ा होता था।

रविवार की रात पति राजू दूसरी मंजिल पर कमरे में सोने चला गया। अमरावती ने अपनी मासूम बेटी सुनैना और नैना को खुद के साथ एक बक्से में बंद किया। बक्से में कुछ लकडिय़ां व पुआल डाल कर आग लगा ली। इससे तीनों की मौत हो गई। रात करीब साढ़े 11 बजे बिजली आने पर नीचे आए राजू को पत्नी व बेटियां कमरे में नहीं मिली। घर का एक कमरा अंदर से बंद था।

उसने पड़ोसी के कच्चे घर की दीवार में बने रोशनदान से उक्त कमरे में गया तो बक्से से धुआं निकल रहा था। बक्सा खोला तो पत्नी व बेटियों की अधजली लाश देख चीख पड़ा। चीख सुन ग्रामीण इकट्ठा हो गए। सराय अकिल थाने की पुलिस भी पहुंची। मृतका की मां छुनकी देवी ने आरोपित पति राजू, ससुर बुधई, जेठानी लक्ष्मी देवी व तीजा देवी के खिलाफ दहेज हत्या का आरोप लगाते हुए तहरीर दी।

केस दर्ज कर पुलिस ने पति व ससुर बुधई लाल को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने बताया कि अभी यह स्पष्ट नहीं हुआ है कि अमरावती ने खुदकशी की है या हत्या हुई है। जांच की जा रही है। 

By Ashish Mishra