कौशांबी। पिपरी थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी व्यक्ति मेहनत मजदूरी करके घरवालों का भरण-पोषण करता है। उसने बताया कि शंकरगढ़ का एक युवक उसकी नाबालिग लड़की को बहला फुसला कर भगा ले गया है। किसी तरह फोन से संपर्क कर पहुंचे किशोरी के परिवारीजनों ने किशोरी समेत युवक को पकड़ लिया और पिपरी पुलिस के हवाले कर दिया है। पीड़ित से मिली तहरीर पर पुलिस मामले की जांच कर रही है।

पिपरी थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी व्यक्ति मजदूर है। मजदूरी के सिलसिले में अक्सर वह घर से बाहर रहता है। घर पर उसकी पत्नी चार बेटियों के साथ रहती है। आरोप है कि प्रयागराज के शंकरगढ़ थाना अंतर्गत बिहरिया गांव का एक युवक उसी गांव में अपने एक रिश्तेदार के घर पर छह महीने से रहता था। आरोप है कि इस बीच युवक ने मजदूर की तीसरी नंबर की 16 वर्षीय बेटी को अपने प्रेम जाल में फंसा लिया और बहला फुसला कर उसे अपने साथ 18 सितंबर की रात भगा ले गया। घर से किशोरी के गायब होने की जानकारी जब स्वजन को हुई तो उसके होश उड़ गए। परिवारीजनों ने किशोरी की खोजबीन शुरू किया। लोगों से मिली जानकारी के मुताबिक वह तलाश करते हुए युवक के घर पहुंच गए और वहां बेटी समेत युवक को पकड़ लिया। उसके बाद 112 नंबर डायल पुलिस को सूचना दी। सूचना पर पहुंची पुलिस को सारी आपबीती किशोरी के स्वजन ने पुलिस से कही तो पुलिस ने युवक को पकड़ कर कौशांबी ले आई। पिपरी पुलिस के हवाले युवक को सौंप दिया है। किशोरी के पिता ने मामले की तहरीर पुलिस को दिया है। तहरीर मिलने के बाद पिपरी पुलिस ने मामले की जांच करनी शुरू कर दी है।

Edited By: Jagran