मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जासं, कौशांबी : जिले भर में बुधवार को पूर्व राष्ट्रपति डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्मदिन को शिक्षक दिवस के रूप में मनाया गया। जहां विद्यार्थियों ने गुरुओं को उपहार देकर सम्मानित किया। वहीं स्कूलों में सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। जवाहर नवोदय विद्यालय टेंवा में शिक्षक दिवस विशेष रूप से मनाया गया। इस दिन विद्यार्थियों ने उनको एक तरह से अवकाश दे दिया। 11वीं व 12वीं के छात्रों ने शिक्षक की जिम्मेदारी निभाई। वह खुद कक्षाओं में पहुंचकर शिक्षकों की भांति क्लास में पढ़ा रहे थे। उस विषय के शिक्षक कक्षा में बैठकर एक छात्र भी भांति उनसे सवाल कर रहे थे। दोपहर बाद शिक्षकों के सम्मान में रंगारंग कार्यक्रम आयोजित हुए। इस दौरान छात्रों ने शिक्षकों को सम्मानित किया।

हर्रायपुर स्थित एसपी मौर्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में छात्रों ने रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किए। विद्यालय प्रबंधक संदीप मौर्या ने कहा कि गुरु का महत्व हमारे समाज में आदिकाल से है। ओसा स्थित एसबी इंटरमीडिएट कॉलेज परिसर में कार्यक्रम के दौरान प्रबंधक अशोक त्रिपाठी ने कहा कि अपने पूरे जीवन में सदैव शिक्षकों के हित को लेकर कार्य किया है। इस मौके पर प्रधानाचार्य राकेश शुक्ला, अश्वनी तिवारी, ओपी राव समेत अन्य शिक्षकों को विद्यालय के छात्रों ने उपहर देकर सम्मानित किया। प्रधानाचार्य महेश कुमार ने बच्चों को बधाई दी। इस मौके पर दीपक ¨सह मौर्य, प्रमोद कुमार, महरोज फात्मा, नीरज मौर्या, श्यामबाबू, मुकेश कुमार, बब्लू, गीता देवी, मानचंद्र, महेंद्र ¨सह आदि मौजूद रहे।

पश्चिमशरीरा के वैदिक पब्लिक स्कूल चंपहा बाजार अग्रहरि शिक्षा समिति ने शिक्षकों को सम्मानित किया। समिति के प्रबंधक घनश्याम अग्रहरि ने कहा कि शिक्षक ही एक ऐसा व्यक्ति होता है। जो पूरे समाज व देश के हित को लेकर काम करता है। वह किसी एक छात्र या समाज का नहीं बल्कि पूरे समाज के हित को सुधारने का प्रयास करता है। सरसवां के बैरमपुर रोड पश्चिम शरीरा स्थित महर्षि पब्लिक स्कूल में प्रबंधन राज कुमार त्रिपाठी ने शिक्षक दिवस पर बच्चों की ओर से शिक्षकों का सम्मानित किया। उन्होंने कहा कि शिक्षक को ही बच्चों को आगे बढ़ाने का मुख्य श्रेय जाता है। उनके प्रयास से ही बच्चा लिख पढ़ कर उन्नत करता है। इस मौके पर प्रधानाचार्य एएन पांडे, भाष्कर ¨सह, शिवांगी, मोहित कुमार, मनीष, दीपक कुमार, शिवम केसरवानी, मोनिका, ज्योति ¨सह, पूनम आदि शिक्षक मौजूद रहें।

डॉ. रिजवी पीजी कॉलेज करारी के प्रबंधक करार हुसैन रिजवी ने मां सरस्वती के चित्र पर दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। प्रचार्य डॉ. सतीश चंद्र द्विवेदी ने कहा कि शिक्षक चाहता है कि हर छात्र उन्नति करे। वह देश व समाज का सम्मान बढ़ाए। डॉ. रिजवी इंजीनिय¨रग कॉलेज के डायरेक्टर निर्विकार कटियार व शिक्षकों को विद्यार्थियों ने बुके देकर सम्मानित किया। साथ ही विभिन्न प्रकार के रंगारंग कार्यक्रम भी आयोजित किए।

चायल के काजीपुर स्थित विष्णु भगवान पब्लिक स्कूल में शिक्षक दिवस के अवसर पर शिक्षक अनुज कुशवाहा ने पूर्व राष्ट्रपति डा. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्मदिवस पर उनके जीवन पर प्रकाश डाला। विद्यालय के अन्य शिक्षकों ने भी छात्रों के उनके बारे में जानकारी दी। बच्चों ने अध्यापकों के लिए समर्पित गीत गाए। प्रिया पांडे ने वी लव यू टीचर, वी प्रेज यू टीचर, वी थैंक यू टीचर ऑलवेज आदि गीत गाए। कार्यक्रम का संचालन संचालन श्रेया पांडे व साक्षी केसरवानी ने किया। बच्चों ने मिलकर अध्यापन कार्य भी किया। अध्यापक अभिषेक ¨सह ने बच्चों के सर्वांगीण विकास को लेकर विचार रखें। एजाज खलील ने बचपन को याद करते हुए एक मार्मिक गीत सुनाया। आरपी ओझा ने बच्चों के विकास को अध्यापक के मैकेनिज्म से जोड़ा। पूनम त्रिपाठी, संगीता केसरवानी, सुषमा मिश्रा, नबोनिता चौधरी, सोनू शुक्ला, सदफ शेख और रमन ¨सह आदि ने विचार रखे।

छात्रों व शिक्षकों का होता है बहुत गहरा संबंध

विद्यालय के प्रबंधक के के तिवारी ने राधाकृष्णन के बताए रास्ते पर चलकर शिक्षण कार्य में ज्यादा से ज्यादा गुणवत्ता लाने की बात कही। उन्होंने कहा कि छात्रों व शिक्षकों का संबंध बहुत गहरा होता है। जितना ज्यादा बच्चे गुरु के नजदीक रहेंगे उन्हें उतना ही ज्यादा सीखने को मिलेगा। उन्होंने बच्चों के प्रस्तुत किए गए कार्यक्रमों की सराहना की और बच्चों को आशीर्वाद दिया। राकेश मालवीय ने कहा कि शिक्षक होना आसान काम नहीं है, हमें समर्पित होकर बच्चों के भविष्य निर्माण में अपना योगदान देना चाहिए। एक बच्चा अध्यापक की अनुकृति होता है।

डायट परिसर में शिक्षकों का हुआ सम्मान

शिक्षक दिवस के अवसर पर डायट मंझनपुर भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की शुरुआत वरिष्ठ प्रवक्ता डॉ. एके श्रीवास्तव ने सरस्वती वंदना व डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन का माल्यार्पण करके किया। प्रवक्ता विनोद कुमार ¨सह, एके ¨सह, डॉ. संदीप तिवारी, संजय भद्र, बीडी मिश्रा, डॉ. नरेंद्र कुमार, लिपिक अभिषेक कुमार पांडे का प्रशिक्षुओं ने स्वागत किया। प्रशिक्षु मेधा पांडे ने अपने वक्तव्य से सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया। संयुक्त मोर्चा संघ के प्रदेश अध्यक्ष सत्येंद्र ¨सह सीटू ने बताया हम अपने जीवन के लिए माता-पिता के ऋणी होते हैं, लेकिन एक अच्छे व्यक्तित्व के लिए हम एक शिक्षक के भी ऋणी होते हैं। कार्यक्रम में अंजलि शुक्ला, श्रेया द्विवेदी, दीक्षा केसरवानी, अलका, रिचा, मेधा पांडे, श्रुति ¨सह, श्रद्धा, रजनीश ¨सह, संध्या ¨सह, अनामिका, दीक्षा, डाली मिश्रा, पूर्णिमा पांडे, रूबी ¨सह, समीक्षा गुप्ता ने कार्यक्रम प्रस्तुत किए। संयुक्त मोर्चा संघ के प्रदेश महामंत्री मुकेश पांडे, प्रदेश महामंत्री अनंत प्रताप ¨सह, प्रदेश सचिव अजीत रैना, मंडल अध्यक्ष गौरव ¨सह, मंडल उपाध्यक्ष सत्येंद्र ¨सह, जिला अध्यक्ष अंकित ¨सह चंदेल, कोषाध्यक्ष योगेश ¨सह, आदि मौजूद रहे। म्योहर के सरस्वती ज्ञान मंदिर ¨पडरा में छात्रों ने शिक्षकों को उपहार देकर सम्मानित किया।

धर्मा देवी इण्टर कॉलेज के संस्थापक रामावतार त्रिपाठी ने राधाकृष्णन की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। कार्यक्रमों के साथ ही छात्रों के बीच स्वच्छ भारत, स्वस्थ भारत पर भाषण प्रतियोगिता आयोजित की जिसमें यश त्रिपाठी प्रथम, आर्यन गुप्ता द्वितीय तथा आस्था त्रिपाठी ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। विजेताओं को मेडल और प्रसास्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। प्रधानाचार्य डॉ. रामकिरण त्रिपाठी ने केक काटा।

केपीएस भरवारी के प्रांगण में एनडी ग्रुप ऑफ स्कूल के अध्यापकों के सम्मान में एनडी मैनेजमेंट ने प्रतियोगिता करवाई गई। जिसमें गुरुजनों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। चेयर रेस में प्रथम पुरस्कार विजय ¨सह यादव को मिला। उनको प्रबंधक ने स्कूटी देकर सम्मानित किया। दूसरा पुरस्कार एनडी ग्रुप ऑफ भरवारी के मानिकचंद को मिला। उनको लैपटॉप सम्मानित किया गया। केपीएस भीटी की नीलम खरवार को तृतीय स्थान मिला। प्रबंधक ने उनको भी लैपटॉप दिया। चौथा स्थान केपीएस भरवारी के रजत राम को मिला। उन्होंने टैबलेट देकर सम्मानित किया गया। पांचवां स्थान किड्जी की अध्यापिका सोनाली श्रीवास्तव ने पाया। उनको भी टैबलेट देकर सम्मानित किया गया। एनडी ग्रुप ऑफ स्कूल के चेयरमैन व चायल विधायक संजय कुमार गुप्ता ने शिक्षकों को पुरस्कार देते हुए कहा कि समाज में शिक्षक का दर्जा सर्वोपरि होता है। उसका कोई स्थान नहीं ले सकता। कार्यक्रम में मुख्य रुप से केपीएस भरवारी प्रधानाचार्य ज्ञानेंद्र, भीटी प्रधानाचार्य सीमा पवार, एनडी कानवेंट ¨प्रसिपल मयंक मिश्रा, किड्जी ¨प्रसिपल अनुपमा जायसवाल, आरती चंद्रा, विपुल आदि मौजूद रहे। पौधरोपण कर मनाया शिक्षक दिवस

विकास खंड नेवादा के प्राथमिक विद्यालय पेरई में बुधवार को प्रधानाध्यापक हरिओम ¨सह ने डा सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जीवनी पर प्रकाश डालते हुए अनुशासन और पठन, पाठन पर प्रेरित किया। उन्होंने विद्यालय प्रांगण में छात्रों के साथ मिलकर पौधरोपण भी किया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप