कौशांबी : कोहरे के दौरान वाहन चालकों को सावधानी बरतने की जरूरत है। जनपद में 16 स्थानों को परिवहन व यातायात विभाग ने दुर्घटना बाहुल्य क्षेत्र घोषित किया है। जहां पर आए दिन हादसे होते हैं। जिम्मेदारों ने इन स्थानों पर संकेत बोर्ड लगवाया है, लेकिन कोहरे में वाहन चालकों को बोर्ड नहीं दिख रहे थे। दैनिक जागरण की पहल पर यातायात निरीक्षक रविद्र कुमार ने ब्लैक स्पॉट पर लगाए गए बोर्डो पर रिफ्लेक्टर लगाने की पहल की। मंगलवार को उन्होंने दो स्थानों पर लगाए गए बोर्ड में रिफ्लेक्टर लगाया।

परिवहन विभाग और यातायात पुलिस ने जनपद के 16 स्थानों को ब्लैक स्पॉट चिह्नित किया है। नेशनल हाईवे में नौ व अन्य सड़कों पर सात ब्लैक स्पॉट हैं। नेशनल हाईवे पर जिन स्थानों को ब्लैक स्पॉट घोषित किया गया है। उसमें सैनी, टेढ़ीमोड़, कोखराज, चाकवन, कल्याणपुर, अटसराय, अजुआ, लोहदा, गुलामीपुर व अन्य सड़कों में मंझनपुर, ओसा, कुम्हियावां, करारी, पतौना, दीवरकोतारी, बनीराम कटरा, कसेंदा शामिल हैं। इन स्थानों पर परिवहन विभाग और यातायात पुलिस ने संकेतक चिह्नित बनाकर बोर्ड तो लगाया है, लेकिन कोहरे की वजह से कुछ भी नजर नहीं आता है। इसके अलावा राष्ट्रीय राजमार्ग पर बने ढाबे और सुविधानुसार बनाए गए कट हादसों का कारण बन रहे हैं। हाईवे पर खुले ढाबों के किनारे खड़े ट्रकों में वाहन टकराते हैं और हर साल बड़ी संख्या में लोगों की जान चली जाती है। कोहरे की वजह से हो रही घटनाओं पर विराम लगाने के लिए वाहन चालकों को जागरूक करने के लिए दैनिक जागरण की ओर से समाचारीय अभियान चलाया जा रहा है। मंगलवार को यातायात प्रभारी ने ब्लैक स्पॉट पतौना व ओसा में लगाए गए संकेतक बोर्ड में रिफ्लेक्टर लगाया। इस दौरान उन्होंने वाहन चालकों से अपील किया कि कोहरे के दौरान हेड व बैक लाइट जलाकर चलें। साथ ही अपने वाहनों में रिफ्लेक्टर का प्रयोग करें जिससे वे कोहरे में दूर से दिखाई दें। वाहन धीमी गति से चलाएं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस