कौशांबी। नगर पंचायत करारी में चल रहे गणपति महोत्सव (गणेश चतुर्थी पर्व) का समापन सोमवार को हुआ। कस्बे के नगर पंचायत प्रांगण व घरों में स्थापित भगवान गणेश की प्रतिमाओं का विसर्जन धूमधाम से किया गया। स्थानीय श्रद्धालुओं ने ढोल, ताशा, डीजे, बैंड के साथ भगवान गणेश की प्रतिमाओं का नदियों में विसर्जन किया।

गणेश चतुर्थी पर्व चतुर्थी से शुरू हुआ। इस दिन से भगवान गणेश की प्रतिमाओं को धूमधाम एवं विधि विधान से स्थापित करने का क्रम शुरू हुआ था। गणपति महोत्सव के दिनों में लगातार भगवान का श्रृंगार किया गया। श्रृंगार करने के बाद उनको मोदक, पेड़ा, मेवा आदि का भोग लगाया गया। पूरे दिन पूजन अर्चन कर शाम को आरती की गई। पंडाल में महिलाओं ने भक्ति संध्या का भी आयोजन किया। सोमवार को भगवान गणेश की शोभा यात्रा निकाली गई जो कस्बे के किग नगर, अशोक नगर, इंदिरा नगर आदि मोहल्लों से होते हुए अवाना चौराहा के पास पहुंची। इस दौरान बैंड बाजा भी खूब बजा। भक्तगण थिरकते रहे। जहां किलनहाई नदी में भगवान गणेश की प्रतिमा का विसर्जन किया गया। विसर्जन करते हुए भक्तों के आंखें भी नम रही। श्रद्धालुओं ने भगवान गणेश से प्रार्थना भी किया कि वह अगले वर्ष फिर जल्दी आएं और अपनी कृपा सभी को कृतार्थ करें। इस मौके पर सोनू बाबा, नितिन जायसवाल, अंकुश गुप्ता, मनीष साहू, पवन गुप्ता, आयुष चौधरी, मोनू जायसवाल, सत्येंद्र कुमार, राजेंद्र प्रसाद, मीनू देवी, आस्था, रिया, खुशबू, ज्योति, निकिता चौधरी, रत्नेश सिंह, कौशलेंद्र प्रसाद, आशीष राय, विपिन पाल, नरेश पाल सिंह, विकास कुमार, श्वेता, क्षिति आदि सहित काफी संख्या में महिलाएं मौजूद रहीं।

Edited By: Jagran