जागरण टीम, कौशांबी : पवित्र रमजान का महीना चल रहा है। इन दिनों मुस्लिम समाज के लोग रोजा रखकर अल्लाह की इबादत कर रहे हैं। पवित्रता का संदेश देने वाला यह पर्व बड़ा कठिन है। रोजा रखने वाले भावनाओं को संयमित व पवित्र रखकर अधिक समय तक अल्लाह की इबादत करते हैं। इन दिनों की जा रही बिजली कटौती परेशानी का सबब बन गई है। रोजेदारों ने विभाग के अधिकारियों से रोस्टर मुताबिक आपूर्ति की मांग की थी लेकिन ध्यान नहीं दिया गया।

शासन की ओर से रमजान के दौरान मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्रों में बिजली कटौती नहीं करने का निर्देश विभागीय अधिकारियों को शासन की ओर से दिया गया है। फिर भी हर दिन पांच से छह घंटे की बिजली कटौती की जा रही है। दिन व रात के समय की जा रही बिजली कटौती से विद्युत उपकेंद्र सिराथू क्षेत्र के मीठेपुर सयारा के मोहम्मद इस्माइल, शहनवाज का कहना है कि सहरी व इफ्तार के दौरान बिजली गुल रहती है। ग्राम पंचायत नारा के तुफैल अहमद का कहना है कि ग्रामीण क्षेत्र में 18 घंटे बिजली आपूर्ति का रोस्टर जारी किया गया है, लेकिन दिन में चार घंटे व रात में दो घंटे आपूर्ति की जाती है जिससे कूलर, पंखा, एसी आदि नहीं चल रहे हैं। चायल के विद्युत उपकेंद्र मंदर के पावन, करनपुर, मीरपुर, मंदर, मेंडवारा, कसेंदा, कादिलपुर, अकबरपुर, बिलासपुर, काठगांव, गांजा विद्युत उपकेंद्र के खटांगी, चिल्ला, तियरा, चंद्रशेन, भोजपुर, मकदूमपुर, बजहा उपकेंद्र के कटहुला, शेरपुर, हरियरापर, असरावल, घोषी, फुलवा, बिसौना, चिरैयाकापुरवा, जलालपुर, तारापुर, मदारीपुर, मकनपुर आदि गांव में दोपहर के समय बिजली कटौती की जा रही है। शहरी के समय बिजली कटौती से लोगों को परेशान होना पड़ता है ढिबरी के सहारे शहरी करने को लोग मजबूर हो जाते हैं। शिकायत के बाद भी निजात नहीं मिली है।

अब्दुल हामिद अंसारी बिजली कटौती का कोई समय निर्धारित नहीं है। दोपहर के समय हर दिन बिजली आपूर्ति ठप कर दी जाती है। बिजली संचालित यंत्रों के न चलने से परेशानी होती है।

मोहम्मद जाहिद रात को कई बार आती जाती है। रात्रि आठ बजे से एक बजे तक आपूर्ति ठप कर दी जाती है। इससे गर्मी से जूझना पड़ता है और लोग अनिद्रा का शिकार हो रहे हैं।

मोहम्मद समसुल रोजा खोलने समय बिजली नहीं रहती है। इससे पानी के लिए इधर- उधर भटकना पड़ता है। गांव के कई हैंडपंप भी बिगड़े हुए हैं। इससे लोगों को परेशानी हो रही है।

सग्गन अहमद कस्बों व गांवों में रोस्टर के मुताबिक बिजली आपूर्ति करने का पूरा प्रयास किया जा रहा है। कई विद्युत उपकेंद्र ओवरलोड हैं। इसकी वजह से आपूर्ति में समस्या हो रही है। ओवरलोड व ट्रिपिग होने की स्थिति में बिजली की सप्लाई बंद कर दी जाती है। इस समस्या का समाधान करने के लिए पूरा प्रयास किया जा रहा है।

अंकित कुमार, एक्सईएन विद्युत। हाईटेंशन करंट से मजदूर झुलसा, हालत नाजुक

संसू, करारी : करारी थाना क्षेत्र के रक्सवारा कटरा निवासी मुन्ने मियां का बेटा हाशिम मजदूरी करके परिवार का भरण पोषण करता है। रविवार की सुबह करीब छह बजे अपने निर्माणाधीन मकान में वह लिटर डालने के लिए जाल बांध रहा था। ऊपर से हाईटेंशन तार गुजरा है। जाल बांधते समय अचानक सरिया तार में छू गई। इससे हाशिम करंट की चपेट में आकर बुरी तरह झुलस गया। किसी तरह परिवार के लोगों ने उसे करंट से बाहर किया। गंभीर हालत में उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। हालत नाजुक होने पर चिकित्सकों ने उसे प्रयागराज के एसआरएन अस्पताल रेफर कर दिया लेकिन परिजनों ने उसे निजी अस्पताल में भर्ती कराया। पांच के खिलाफ विद्युत चोरी का मुकदमा

संसू, कसेंदा : पिपरी थाना क्षेत्र के अलग-अलग गांव में बिजली विभाग की टीम ने छापा मारा। पांच लोगों को कटियामारी कर बिजली का चोरी से उपभोग करते हुए पाया। विद्युत उपकेंद्र तिल्हापुर मोड़ के अवर अभियंता महेंद्र कुमार वर्मा लाइनमैन राकेश सिंह व निविदा कर्मी संतोष कुमार के साथ शनिवार को सबसे पहले पेरई गांव पहुंचे। यहां जितेंद्र कुमार के घर में चोरी से बिजली उपभोग करते हुए पाया। इसके अलावा तिलगोड़ी निवासी सत्यभान सिंह, रेही निवासी कमलेश, हरदरमऊ निवासी राजेंद्र व सुरेंद्र के घर भी कटियामारी करते हुए बिजली उपभोग करते हुए पकड़ा। सभी घरों की केबिल जब्त करते हुए जेई ने थाने पहुंचकर तहरीर दिया। सभी आरोपितों के खिलाफ पुलिस ने केस दर्ज किया।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप