जासं, कौशांबी : जनपद में भारत बंद का मिला-जुला असर देखने को मिला। पेट्रोलियम पदार्थों के मूल्यों में तेजी से आए उछाल को लेकर कांग्रेस के भारत बंद आह्वान पर सोमवार को जनपद के विभिन्न बाजार व चौराहों में भी दुकानें बंद कराई गईं। कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं ने सड़क पर उतरकर प्रदर्शन किया और मंझनपुर मुख्य चौराहा पर धरने पर बैठ गए। जाम की स्थिति पैदा होने की जानकारी पर पहुंचे एसडीएम मंझनपुर सतीश चंद्र ने उनकी मांगों को आला अफसरों के जरिए शासन तक पहुंचाए जाने का आश्वासन दिया।

कांग्रेस कमेटी के जिलाध्यक्ष तलत अजीम ने सबसे पहले चरवा चौराहा और फिर मंझनपुर में घूम-घूम कर उन्होंने दुकान बंद करने का अनुरोध किया। जिलाध्यक्ष ने कहा कि भाजपा शासन काल में पेट्रोल, डीजल व रसोई गैस की कीमतें आसमान छू रही हैं। आम जन को अच्छे दिनों का वादा करके देश के किसानों, महिलाओं व युवाओं से छल कपट किया है। अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत 50 से 60 डॉलर प्रति लीटर बिक रहा है। डीजल भी 72 व 75 के पार हो चुका है। केंद्र की भाजपा सरकार बढ़ी कीमतों से प्रतिवर्ष चार लाख करोड़ राजस्व की कमाई कर रही है। फलस्वरूप अब 11 लाख करोड़ रुपये की कमाई की है। साथ ही हिसाब मोदी सरकार आम जनता को नहीं दे रही है। वर्ष 2014 के पूर्व की डॉ. मनमोहन ¨सह की यूपीए सरकार में 140 डॉलर प्रति बैरल कच्चा तेल अंतरराष्ट्रीय बाजार में मिल रहा था तो तत्कालीन कांग्रेस नीति सरकार पेट्रोल 69 व 70 रुपये प्रति लीटर बिकवा रही थी। पूर्व मंत्री मतेश चंद्र सोनकर ने कहा कि भाजपा सरकार ने पेट्रोलियम पदार्थों के दाम में बढ़ोतरी करके साफ कर दिया कि यह जनता विरोधी है। पूंजीपतियों की रखवाली करने वाली सरकार को जनता की कोई फिक्र नहीं है। इस मौके पर महेंद्र गौतम, रामबहादुर त्रिपाठी, फैसल अली, राजेंद्र त्रिपाठी, पुष्पराज पांडेय, संतोष शुक्ला, अमिता ¨सह आशीष मिश्र उर्फ पप्पू, वेद प्रकाश पांडेय, देवेश श्रीवास्तव, कौशलेश द्विवेदी, शाहिद सिद्दीकी, मुमताज सिद्दीकी आदि मौजूद रहे। अधिवक्ताओं भी किया विरोध, न्यायिक कार्य से रहे विरत

जिला कचहरी में अधिवक्ताओं भी इसका विरोध किया। माडल डिस्ट्रिक बार एसोसिएशन के तत्वावधान में सोमवार को अड़तालिस खंभा में बैठक आयोजित की। इसकी अध्यक्षता एसोसिएशन के अध्यक्ष नरनारायण मिश्र ने किया। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में हर रोज डीजल व पेट्रोल की कीमतों में उछाल हो रहा है। उन्होंने एससीएसटी एक्ट का भी विरोध करते हुए कहा कि भाजपा सरकार के यह कार्य पूरे देश के भावनाओं के विपरीत है। इस मौके पर पूर्व अध्यक्ष देवशरण त्रिपाठी, मनुदेव त्रिपाठी, उदित नारायण ¨सह, अजय पांडेय, कौशल किशोर, केडी द्विवेदी, वेद प्रकाश मिश्र, भोलानाथ मिश्र, घनश्याम, अविनाश त्रिपाठी आदि मौजूद रहे।

चायल तहसील बार एसोसिएशन के अध्यक्ष मान¨सह और महामंत्री सगीर अहमद के अगुवाई में भारत बंद का समर्थन किया। अध्यक्ष मान ¨सह ने कहा कि भ्रष्टाचार से प्रदेश में अराजकता और नौजवानों को रोजगार नहीं मिल रहा। प्राथमिक शिक्षक भर्ती में भ्रष्टाचार सरकार के दावों की हवा निकाल दी है। अधिवक्ताओं ने जिलाधिकारी को संबोधित एक ज्ञापन तहसीलदार कल्पना चौहान को सौंपा। तहसीलदार ने उनकी शिकायत जिलाधिकारी तक पहुंचाने का आश्वासन दिया। प्रदर्शन करने वालों में बाकेलाल पाल, राधे मोहन ¨सह, राजेश्वर यादव, सुरेंद्र ¨सह यादव, राकेश पाल, देव शरण यादव, धर्मराज ओझा और रिजवान अहमद आदि मौजूद रहे। रेलवे स्टेशन पर डटे रहे पुलिस कर्मी

संसू, भरवारी : कांग्रेस के देश व्यापी बंद के विरोध में भरवारी रेलवे स्टेशन व उसके आसपास पुलिस के जवान सोमवार की सुबह से ही तैनात कर दिए गए। फायर ब्रिगेड की गाड़ी भी रेलवे स्टेशन पर नजर आई। इतना ही नहीं, डीएम मनीष कुमार वर्मा व एसपी प्रदीप गुप्ता ने भी इसकी निगरानी की। पेट्रोलियम पदार्थों के मूल्यों में बढ़ोत्तरी को देखते हुए भरवारी कस्बे में पूरी तरह दुकानें बंद रहीं। रेलवे फाटक के जिस बूथ पर ताला लटकता मिलता था, वहां पुलिस कर्मी मुस्तैद नजर आए।

Posted By: Jagran