जासं, कौशांबी : मंझनपुर कोतवाली क्षेत्र के स्थानीय कस्बे में भूमि खरीदकर पार्टनर बनाने के नाम पर शातिरों ने एक व्यक्ति से 25 लाख रुपये ठग लिए। मामले की शिकायत पर पुलिस ने दो शातिरों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। आरोपितों की तलाश में पुलिस संभावित ठिकानों पर दबिश दे रही है।

प्रयागराज के धूमनगंज भरेठा निवासी शमीमउद्दीन बड़ा काश्तकार हैं। अप्रैल 2014 में शमीम की मुलाकात मूरतगंज निवासी वसीम अहमद व खुशी केसरवानी से हुई। शमीम के मुताबिक दोनों ने मंझनपुर में भूमि खरीदने और प्लाटिग करते हुए फायदे की रकम में बराबर का हिस्सा देने की बात कही। अच्छी मित्रता होने से शमीम ने दोनों की बात पर विश्वास करते हुए 25 लाख रुपये दे दिए। शमीम का कहना है कि वसीम व खुशी केसरवानी ने भूमि खरीदते हुए प्लाटिग शुरू कर दी, लेकिन अब तक न तो उसे विक्रय किए गए प्लाट में कोई हिस्सा दिया गया और न ही 25 लाख रुपये ही वापस किए गए। सप्ताह भर पहले शमीम ने दोनों से घर पहुंचकर मुलाकात की। यह बात वसीम व खुशी को नागवार गुजरी। दोनों ने शमीम के साथ अभद्रता कर रुपये देने से इन्कार कर दिया। शमीमउद्दीन ने एसपी से गुहार लगाई। पुलिस अधीक्षक प्रदीप गुप्ता के आदेश पर कोतवाल उदयवीर सिंह ने गुरुवार को वसीम अहमद व खुशी केसरवानी के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज कर लिया। कोतवाल का कहना है कि दोनों आरोपितों के खिलाफ मंझनपुर कोतवाली में पहले भी धोखाधड़ी के कई केस दर्ज हैं। आरोपितों की तलाश की जा रही है। जल्द ही दोनों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप