जागरण संवाददाता, कासगंज : मई जाते-जाते गर्मी ने अपनी दस्तक दे दी है। सुबह से ही तल्ख धूप लोगों के पसीने छुड़ा रही है तो दोपहर में गर्म हवा की लपटें दुपहिया वाहन सवारों का राह निकलना मुश्किल कर रही हैं। गर्मी के चलते दोपहर में सडकों पर सन्नाटा छा जाता है।

लॉकडाउन के साथ जिदगानी ढर्रे पर आने के साथ में गर्मी ने अभी अपने तेवर दिखाने शुरू कर दिए हैं। सुबह 11 बजे से ही आसमान से आग बरसने लगती है। लॉकडाउन में बाजारों के खुलने का समय सुबह साढ़े नौ से शाम पांच बजे तक है। ऐसे में दुकान खुलने के दो घंटे बाद ही बाजार गर्मी के कारण सूने हो जाते हैं। जब सूरज ढलता है और तपन से राहत मिलती है तो लॉकडाउन की बंदिश से दुकानों के शटर गिराने का वक्त हो जाता है। गर्मी और लॉकडाउन से व्यापार प्रभावित हो रहा है। दुकानदार हाथ पर हाथ रख कर बैठे ग्राहकों का इंतजार करते रहते हैं। सोमवार को अधिकतम तापमान 44 और न्यूनतम 29 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया।

----------

बिजली की ट्रिपिग बढ़ा रही है परेशानी :

इधर गर्मी में बिजली की कटौती भी लोगों की परेशानी बढ़ा रही है। शाम होते ही बिजली की ट्रिपिग शुरू हो जाती है। इससे लोग परेशान हैं। सोमवार को भी कई मुहल्लों में बिजली के आने-जाने का क्रम जारी रहा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस