कासगंज, संवाद सहयोगी: जिले में पीएम स्ट्रीट वेंडर्स आत्मनिर्भर निधि योजना के अंतर्गत 4500 स्ट्रीट वेंडर्स के खाते में धनराशि हस्तांतरित करा दी गई है। इनके लिए जिले के सभी निकायों में कुल 7414 लोगों ने आनलाइन पंजीकरण कराया था। इसमें डूडा एवं संबंधित निकाय ने 4972 आवेदनों को स्वीकृत किया था।

कोरोना काल में प्रभावित हुए स्ट्रीट वेंडर के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 10 हजार रुपये ऋण देने की योजना शुरू की है। इसके तहत जिले की 10 निकायों से कुल 7414 आनलाइन आवेदन किए गए। इनमें से डूडा एवं संबंधित निकायों ने 4972 आवेदनों को स्वीकृति प्रदान की थी। एक फरवरी से स्ट्रीट वेंडर्स के खातों में धनराशि हस्तांतरित करने का सिलसिला जारी है। शनिवार की शाम तक 4500 आवेदनकर्ताओं के खातों में 10 हजार रुपये की धनराशि हस्तांतरित की गई है। इनमें से कासगंज नगर पालिका परिषद में 2200 स्ट्रीट वेंडर्स को ऋण दे दिया गया है। शनिवार को भी लाभार्थियों के खाते में धनराशि भेजी गई। शहर की भारतीय स्टेट बैंक की कृषि विकास शाखा में कर निर्धारण अधिकारी संगीता गुप्ता, डूडा की प्रोजेक्ट मैनेजर अर्चना सोनकर, अनिल कुमार डीसी, शाखा प्रबंधक आकाश भारद्वाज ने पात्रों को लाभांवित कराया है। अधिकारियों ने बताया कि अन्य आवेदनों की जांच चल रही है। उसके बाद उन्हें भी योजना का लाभ दिया जाएगा।

प्रधानमंत्री स्ट्रीट वेंडर्स योजना के लिए काफी दिनों से पंजीकरण जारी थे। 4500 पात्रों को योजना का लाभ प्रदान किया गया है। शेष लाभार्थियों को भी योजना का लाभ दिया जाएगा।

- विद्याशंकर पाल, पीओ डूडा

Edited By: Jagran