कासगंज, संवाद सहयोगी : अवैध वाहन स्टैंड हटाने को लेकर अभियान चलाया जा रहा है। कुछ हद तक तो अभियान सफल हुआ है, लेकिन पूरी तरह सफलता नहीं मिली है। इधर, परिवहन विभाग और यातायात पुलिस संयुक्त रूप से अभियान चलाकर वाहन स्टैंड के लिए जगह तलाश रही है, लेकिन अभी स्टैंड के लिए जगह नहीं मिली है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अवैध हटाए जाने के आदेश दिए हैं। इसको लेकर जिले में भी प्रयास हो रहे हैं, लेकिन अभी आंशिक सफलता नहीं मिली है। कुछ अवैध स्टैंड ही हटाए जा सके हैं। हालांकि, इतना जरूर है कि आटो चालक किसी भी स्थान पर अधिक देर तक खड़े नहीं हो रहे हैं। छर्रा रोड, अशोक नगर और नदरई गेट के अवैध आटो स्टैंड पूरी तरह हटाए जा चुके हैं। आटो स्टैंड हटाए जाने एवं स्थाई आटो स्टैंड के लिए जगह का चिन्हांकन न होने से यात्रियों को भी समस्या का सामना करना पड़ रहा है। सहावर गेट, सोरों गेट इलाके के अवैध स्टैंड अभी नहीं हट सके हैं। इधर, भूमि चिन्हांकन के लिए एआरटीओ राजेश राजपूत और यातायात प्रभारी गणेश चौहान संयुक्त रूप से जुटे हुए हैं। जमीन नहीं मिल सकी है कस्बा क्षेत्रों में शुरू नहीं हुआ अभियान

अवैध स्टैंड हटाने के लिए कस्बा क्षेत्रों में तो अभियान भी शुरू नहीं हुआ है। सोरों, सहावर, अमांपुर, पटियाली, गंजडुंडवारा, सिढ़पुरा में कहीं भी सरकारी स्टैंड नहीं हैं। यहां अवैध वाहन स्टैंड हैं। कस्बों में भी सरकारी स्टैड की जरूरत दिख रही है। स्टैंड बनाने के लिए स्थान का चयन किया जा रहा है, लेकिन अभी तक जगह नहीं मिली है। अवैध स्टैंड हटवा दिए गए हैं। अभियान चल रहा है।

- राजेश राजपूत, एआरटीओ

Edited By: Jagran