पटियाली, संवाद सहयोगी : बीते माह पटियाली क्षेत्र में अचानक गंगा का पानी बढ़ जाने से गंगा ने कटान शुरू कर दिया था। जागरण ने इस खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया था। जागरण की खबर को संज्ञान में लेकर प्रशासन गंभीर हुआ है। बुधवार को पटियाली के एसडीएम ने कटान क्षेत्र का निरीक्षण किया है।

वैसे तो गंगा बारिश के दिनों में ही बढ़ती है, लेकिन इस बार किन्हीं कारणों के चलते गंगा का जलस्तर अप्रैल माह के अंतिम सप्ताह में बढ़ गया। जलस्तर बढ़ जाने से गंगा नगला जौरी और रिकैरा के निकट कटान शुरू कर दिया था। जिससे क्षेत्र के दर्जन भर ग्रामीणों की नींद उड़ गई। उन्हें अनहोनी की आशंका सताने लगी थी। गंगा के पानी के दबाव में मिट्टी की बोरियों से बंधी ठोकरें तोड़ दी और बांध कटान क्षेत्र की चपेट में आ गया है। जागरण ने इस खबर को 25 अप्रैल के अंक कटान कर रही गंगा मचा सकती है तबाही शीर्ष के अंतर्गत प्रमुखता से प्रकाशित किया था। बुधवार को जागरण की खबर को संज्ञान में लेते हुए एसडीएम ने स्टीमर से कटान क्षेत्र का निरीक्षण किया। निरीक्षण के बाद उन्होंने ग्रामीणों को आश्वस्त किया है कि समय रहते ठोंकरे बनवा दी जाएंगी।

बांध टूटने पर ये गांव हो जाएंगे तबाह

नगला रामसहाय-बदायूं

नगला जौरी-बदायूं

नगला मुंशी-बदायूं

खुड़वारा-बदायूं

नगला रिकैरा-पटियाली

गठौरा-पटियाली,

नगला टिकुरी-पटियाली

नगला मेहरी-पटियाली,

नगला गुलाल-पटियाली

रामताल-पटियाली

नगला मुंता-पटियाली

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021