कासगंज, संवाद सहयोगी: त्रिस्तरीय पंचायत नामांकन प्रक्रिया मंगलवार को प्रारंभ हुई। जिला पंचायत सदस्य को लेकर 215 उम्मीगवारों ने नामांकन दाखिल किए। भाजपा सपा एवं बसपा समर्थित दावेदारों ने भी अपने नामांकन किए है। ब्लाकों पर प्रधान बीडीसी एवं ग्राम सभा सदस्यों ने बड़ी संख्या में पर्चे भरे।

नामांकन के पहले दिन दावेदारों की भीड़ नामांकन स्थलों पर रही। कलक्ट्रेट पर 215 जिला पंचायत सदस्यों के नामांकन हुए। इनमें पूर्व सांसद डा. देवेंद्र सिंह यादव सपा समर्थित उम्मीदवार के रूप में नामांकन दाखिल करने पहुंचे। सपा के अन्य समर्थित उम्मीदवारों ने भी पर्चे दाखिल किए। भाजपा के सभी समर्थित उम्मीदवारों ने नामांकन पत्र जमा किए। इसके अलावा बसपा, प्रसपा के समर्थन से चुनाव मैदान में उतरे उम्मीदवारों ने भी नामांकन पत्र जमा किए। भाजपा समर्थित प्रत्याशियों ने हरिपदी गंगाघाट पर पहुंच कर पूजन किया। जिलाध्यक्ष केपी सिंह सोलंकी, विधायक ममतेश शाक्य, देवेंद्र प्रताप सिंह, देवेंद्र राजपूत मौजूद रहे। जिला पंचायत सदस्य पद के लिए 78 दावेदारों ने खरीदे नामांकन

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर नामांकन पत्रों की खरीद मंगलवार को भी जारी रही। जिला पंचायत सदस्य के 78 नामांकन पत्र बिके। सहावर ब्लाक में प्रधान पद के लिए 18, बीडीसी पद के लिए 32, ग्रामसभा सदस्य पद के लिए 153, पटियाली में प्रधान पद के लिए छह, बीडीसी पद के लिए 21, ग्राम सदस्य पद के लिए 63, सिढ़पुरा में प्रधान पद के लिए 33, बीडीसी पद के लिए 25, ग्रामसभा सदस्य पद के लिए 76, सोरों में प्रधान पद के लिए 41, बीडीसी पद के लिए 44, सदस्य पद के लिए 230, गंजडुंडवारा में प्रधान पद के लिए 23, बीडीसी पद के लिए 21, सदस्य पद के लिए 75, अमांपुर में प्रधान पद के लिए 21, बीडीसी पद के लिए 37, सदस्य पद के लिए 123, कासगंज ब्लाक में प्रधान पद के लिए 26, बीडीसी के 26, ग्रामसभा सदस्य पद के लिए 144 नामांकन पत्र बिके है। मान्य होगी आनलाइन जमा की गई जमानत राशि

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर उप जिला निर्वाचन अधिकारी एके श्रीवास्तव कहा है कि आनलाइन जमा की गई जमानत राशि मान्य होगी। नामांकन दाखिल करते समय रसीद संलग्न की जाए। उन्होंने समस्त आरओ, एआरओ एवं बीडीओ को निर्वाचन आयोग के नियमों का पालन करने के निर्देश दिए है। मतदान के चलते बंद रहेगी शराब की दुकानें

कासगंज की सीमाएं आसपास के जिलों से जुड़ी हुईं। इन जिलों में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की मतगणना होनी है। इसके चलते कासगंज की भी शराब की दुकानें उन तिथियों में बंद रहेगी। यह जानकारी डीएम सीपी सिंह ने दी है। उन्होंने बताया कि 15 को जिला हाथरस में मतदान के को लेकर सीमावर्ती दुकानें बंद होगी। 19 को एटा एवं बदायूं, 26 को कासगंज एवं 29 को जिला अलीगढ़ में मतदान प्रक्रिया के दौरान कासगंज जिले की समीपवर्ती आठ किलोमीटर के दायरे की सभी शराब की फुटकर दुकानें बंद रहेंगी।

Edited By: Jagran